1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. samastipur
  5. if you travel by auto and taxi then be careful know what happened in samastipur bihar

Bihar News: ऑटो व टैक्सी से करते है सफर तो हो जाएं सावधान, जानें क्या हुआ युवक के साथ

समस्तीपुर में टैक्सी स्टैंड के आसपास नशाखुरानी गिरोह की सक्रियता बढ़ गई है. अक्सर जिसके शिकार हो रहे हैं यात्री. ऑटो एवं टैक्सी चालकों की मिलीभगत से अक्सर रेल यात्रियों को अपना शिकार बनाते हैं.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
अस्पताल में इलाजरत युवक
अस्पताल में इलाजरत युवक
प्रभात खबर

समस्तीपुर रेलवे जंक्शन के आसपास अगर आप ऑटो या टैक्सी ले रहे हैं, तो सावधान हो जाएं. क्योंकि, शहर में रेलवे जंक्शन एवं टैक्सी स्टैंड के आसपास इन दिनों नशाखुरानी गिरोह की एक्टिविटी काफी बढ़ गयी है, जो ऑटो एवं टैक्सी चालकों की मिलीभगत से अक्सर रेल यात्रियों को अपना शिकार बनाते हैं. रविवार की रात एक बार फिर कुछ इसी तरह की घटना हुई है.

लुधियाना में काम करता है पीड़ित 

लुधियाना से कमा कर लौटे युवक को समस्तीपुर में नशाखुरानों ने लूट लिया है. युवक की पहचान विभूतिपुर थाना क्षेत्र के महिषी के उमाशंकर राय के पुत्र पंकज कुमार (28) के रूप में की गई है, जिसे परिजनों ने शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया है. परिजनों के अनुसार पंकज लुधियाना के स्टील फैक्ट्री में काम करता है.

भाड़े की बोलेरो से निकला था युवक

रविवार की रात काठगोदाम एक्सप्रेस से समस्तीपुर जंक्शन पर उतरा था. टैक्सी स्टैंड से उसने घर जाने के लिए एक बोलेरो भाड़ा किया. रास्ते में बहादुरपुर के पास चालक ने तीन आदमी को गाड़ी पर बैठा लिया. उसके बाद सभी ने उसे ठंडा पिलाया. ठंडा पीने के बाद उसे नींद आने लगी तो उसके साथ बोलेरो में बैठे बदमाशों ने छिनतई शुरू कर दी.

बेहोशी की हालत में बदमाशों का किया विरोध

उसके गले से सोने की हनुमानी और पॉकेट से रुपए निकाल लिया. बेहोशी की हालत में बदमाशों का विरोध किया, तो मारपीट भी की. मुफस्सिल थाना क्षेत्र के जितवारपुर एफसीआई के पास स्थित धम्मक चौक के पास बोलेरो से फेंक दिया. बाद में स्थानीय लोगों ने उसे सड़क किनारे देख उसकी मदद की और घर वालों को सूचना दी.

चालक के वेश में मंडराते रहते हैं

नशाखुरानों ने अब अपने काम करने के तरीके बदल लिए हैं. अब वह ट्रेन में घटना को अंजाम देने के बजाय टैक्सी, ई रिक्शा और ऑटो में घटना को अंजाम देना शुरू कर दिया है. शहर एवं आसपास के इलाके में ऑटो व टैक्सी चालक के वेश में मंडराते रहते हैं.

कई रेल यात्री बन चुके है शिकार

शहर में खासकर स्टेशन चौक, मालगोदाम चौक, कारखाना गेट, बहादुरपुर, टुनटुनिया गुमटी ओवरब्रिज के नीचे, बस स्टैंड एवं मगरदहीघाट चौराहा पर अपने शिकार की खोज में मंडराते रहते हैं. कई बार इन लोगों द्वारा रेल यात्रियों को अपना शिकार बनाया जा चुका है. कुछ मामलों में प्राथमिकी दर्ज भी हुई है. लेकिन स्थानीय पुलिस एवं जीआरपी ना तो इन्हें गिरफ्तार कर पाती है और ना ही इन घटनाओं पर अंकुश लगा पा रही है.

खानपुर के दो युवकों के साथ भी हुई थी घटना

13 अप्रैल की शाम खानपुर थाना क्षेत्र के खेढ़ी गांव के दो युवकों के साथ भी कुछ इसी तरह की घटना हुई थी. खेढ़ी के विनोद महतो के पुत्र श्रवण कुमार एवं रामबाबू महतो के पुत्र संजीत कुमार को ऑटो चालक के वेश में स्टेशन चौक के पास मंडरा रहे नशाखुरानों ने लूट लिया था. दोनों युवक घटना की शाम करीब पौने पांच बजे वैशाली एक्सप्रेस से समस्तीपुर जंक्शन पर उतरे थे.

नशाखुरानों ने कर लिया था अगवा

वहां से अंगारघाट होते हुए घर जाने के लिए एक ऑटो पकड़ा था. लेकिन लक्खी चौक के आसपास से दोनों का मोबाइल स्विच ऑफ हो गया था. रास्ते से ही नशाखुरानों ने उन्हें अगवा कर लिया था. बाद में 16 घंटे के बाद 14 अप्रैल की सुबह खानपुर थाना क्षेत्र के बाबनघाट चोरनियामाय स्थान के समीप सुनसान जगह पर बेहोशी की स्थिति में बरामद किया गया था. दोनों का सारा सामान बदमाशों ने नशा देकर लूट लिया था. इस मामले में आज तक पुलिस कुछ नहीं कर पायी है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें