24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

तटबंध पर अस्थायी कैंप के माध्यम से करें पर्यवेक्षण

बाढ़ से तटबंध सुरक्षा को लेकर किये जा रहे तैयारियों का डीएम ने किया निरीक्षणदिया आवश्यक दिशा निर्देश

बाढ़ से तटबंध सुरक्षा को लेकर किये जा रहे तैयारियों का डीएम ने किया निरीक्षणदिया आवश्यक दिशा निर्देश सहरसा. जिलाधिकारी वैभव चौधरी ने बाढ़ से सुरक्षा को लेकर किये जा रहे तैयारियों का बुधवार को निरीक्षण किया. निरीक्षण के क्रम में जिलाधिकारी सर्वप्रथम पूर्वी कोसी तटबंध चंद्रायण के भागवतपुर पंचायत में स्थित स्पर संख्या 96.60 पर गये. जहां उन्होंने बाढ़ से सुरक्षा के लिए की गयी तैयारियों का जायजा लिया. मौके पर मौजूद कार्यपालक अभियंता जल संसाधन विभाग द्वारा जानकारी दी गयी कि वर्णित स्पर की सतत निगरानी की जा रही है. आपात स्थिति से सफलतापूर्वक निपटने के लिए जल संसाधन विभाग द्वारा तैयारियां पूर्ण कर ली गयी है. जिसके बाद जिलाधिकारी सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड से संबंधित ग्राम महपुरा के निकट स्पर संख्या 98 गये. जहां उन्होंने बाढ़ सुरक्षात्मक तैयारियों के संबंध में संबंधित कार्यपालक अभियंता पूर्वी कोसी तटबंध चंद्रायण से पूछताछ की. उनके द्वारा बताया गया कि वर्णित स्पर के सुरक्षा के लिए तैयारी प्रगति पर है. उनके द्वारा बताया गया कि स्पर संख्या 98 के सुरक्षा के लिए संस्थापित पोरकोपाईन के निकट हल्का सा कटाव विगत में परिलक्षित हुआ था. जिसकी रोकथाम का कार्य शीघ्र पूर्ण कर लिया जायेगा. साथ ही यह भी बताया कि स्पर से कुछ दूरी पर स्थित कोसी नदी के समीप पूर्व से अवस्थित मंदिर पर घाट का निर्माण प्रस्तावित है. घाट का निर्माण कार्य मानसून के बाद किया जाना प्रस्तावित है. महिषी प्रखंड के राजनपुर पंचायत से संबंधित स्पर संख्या 103 निरीक्षण क्रम में जानकारी दी गयी कि कटाव रोकने के लिए स्पर के दोनों तरफ पर्याप्त बाढ़ निरोधात्मक व्यवस्था की गयी है. पूर्वी कोसी तटबंध कोपड़िया के पंचायत गोरदह प्रखंड महिषी में स्थित स्पर संख्या 116.20 निरीक्षण क्रम में जिलाधिकारी ने स्पर के मजबूती के लिए किये जा रहे कार्यो का जायजा लिया. वर्तमान में स्पर संख्या 116.20 पर जेसीबी से युद्धस्तर पर कार्य प्रारंभ है. जिसको जिलाधिकारी ने अविलंब पूर्ण करने का निर्देश दिया. जिलाधिकारी ने कार्यपालक अभियंता पूर्वी कोसी तटबंध चंद्रायण, कोपड़िया को निर्देश दिया कि क्षेत्र के सभी तटबंध में सुरक्षा के लिए ठोस व्यवस्था करें. तटबंध को कोई व्यक्ति हानि न पहुंचाए इसके लिए आवश्यक है कि इसकी सतत निगरानी हो. इसके लिए अस्थायी कैंप के माध्यम से पर्यवेक्षण का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि कोई व्यक्ति तटबंध को हानि पहुंचाने की चेष्टा करंते हुए पाये जायेंगे तो इसे अत्यंत गंभीर कृत्य माना जायेगा एवं संबंधित व्यक्ति के विरूद्ध कठोरतम कार्रवाई सुनिश्चित की जायेगी. इसके बाद जिलाधिकारी पूर्वी कोसी तटबंध कोपड़िया के स्पर संख्या 123.4 पर गये. जहां उन्होंने अवलोकन क्रम में निमार्णाधीन स्लुइस गेट की धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त की. संबंधित कार्यकारी एजेंसी को सख्त लहजे में चेतावनी दिया कि आवश्यकता अनुसार निमार्ण कार्य में संलग्न व्यक्तियों, टीम की संख्या बढ़ाकर अविलंब कार्य पूर्ण करना सुनिश्चित करें. अन्यथा कार्यकारी एजेंसी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करने के साथ नियमानुकुल कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित की जायेगी. निरीक्षण मौके पर अंचलाधिकारी सिमरी बख्तियारपुर, सलखुआ को आपदा प्रबंधन के तहत वर्णित मानक संचालन प्रक्रिया के अनुसार बाढ़ पूर्व तैयारी अविलंब पूर्ण करने, उपलब्ध नावों का भौतिक सत्यापन एवं पूर्व से लंबित भुगतान कार्य को अविलंब निष्पादित करने का निर्देश दिया. निरीक्षण क्रम में अपर समाहर्त्ता आपदा प्रबंधन, डीसीएलआर सिमरी बख्तियारपुर, संबंधित कार्यपालक अभियंता जल संसाधन विभाग, जिला जन संपर्क पदाधिकारी मौजूद थे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें