दीये से रोशन होगी शाम

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पूजा सामग्री खरीदने के लिए बाजार में जुटी रही भीड़

सासाराम (कार्यालय) : पिछले 10 दिनों से दीपावली की तैयारियों में लगे लोगों का अब रुख बाजार की ओर पूजा सामग्रियां, मिठाइयां पटाखों की खरीदारी के लिए होने लगा है. बच्चे,जवान, बूढ़े सभी अपने स्तर से दीपावली की तैयारी में लगे हुए हैं. वहीं गृहिणियां घरों की सफाई के साथ मां लक्ष्मी गणोश भगवान की पूजा को अंतिम रूप दे रहे हैं.

गौरतलब है कि कार्तिक शुक्ल पक्ष के अमावस्या के दिन विधिवत तरीके से लक्ष्मी-गणोश की आराधना की जाती है. मान्यता के अनुसार, दीवाली के दिन ही भगवान श्रीराम रावण का संहार कर अयोध्या लौटे थे.

इसके उपलक्ष्य में पूरे अयोध्या नगरी को दीपों से सजा कर खुशियां मनायी गयी एवं मिठाई बांटी गयी थीं. मिठाई बांटने का प्रचलन बदलते दौर में और बढ़ गया है. अब दीवाली के दिन लोग एक-दूसरे के घर मिठाई के सौगात के साथ ही दीपावली की शुभकामनाएं भी देते हैं.

सतरंगी छटा बिखेरेंगे पटाखे

आमतौर पर दीपावली के दिन पटाखे छोड़ने दीये जलाने को महत्व दिया जाता है. रोशनी के इस त्योहार में पटाखे छोड़ने के उत्साह से बहुत कम ही लोग बच पाते हैं. वैसे भी दीपावली में आतिशबाजी हो तो दीवाली का मजा ही नहीं.

इस बार भी शहर के बाजार परंपरागत इको फ्रेंडेली पटाखों से भरे पड़े हैं. इसमें 20 रुपये से लेकर 200 रुपये तक के पटाखे बाजारों में उपलब्ध हैं. वहीं, बच्चों की पसंद फुलझड़ी 10 रुपये से लेकर 200 रुपये तक के मौजूद हैं.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें