CAA, NRC और NPR काला कानून, सबक सिखाने की बारी आपकी : तेजस्वी यादव

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पूर्णिया : सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लेकर बिहार में सियासी बयानबाजी तेज हो गयी है. इसकी बानगी मंगलवार को पूर्णिया के बायसी में देखने को मिली, जब नेता प्रतिपक्ष और पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने जेडीयू-बीजेपी गठबंधन पर जमकर हमला बोला. सभा को संबोधित करते हुए तेजस्वी यादव ने याद दिलाया कि उनके पिता लालू प्रसाद यादव ने सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ लालकृष्ण आडवाणी का रथ रोकने का काम किया था.

ध्यान भटकाने के लिए ‘काला कानून’
दरअसल, पूर्णिया के बायसी हाईस्कूल में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए तेजस्वी यादव ने सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लेकर केंद्र की मोदी सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया. तेजस्वी ने कहा कि सीएए, एनआरसी और एनपीआर काला कानून है. जनता का ध्यान भटकाने के लिए सरकार कानून लेकर आयी है. आज केंद्र सरकार गरीब और बेरोजगारी की तरफ नहीं देख रही. काले कानून के जरिये देश को बांटने का काम हो रहा है.
शाहीनबाग में धरने पर केंद्र सरकार मौन
तेजस्वी यादव ने भाषण के दौरान जिक्र किया कि केंद्र में दो तानाशाह बैठे हैं. आज लोगों को नागरिकता साबित करने को कहा जा रहा है. पहले दोनों अपनी नागरिकता साबित करके दिखाएं. इनके पुरखों का आजादी की लड़ाई में कोई योगदान नहीं था. दो महीने से शाहीनबाग में महिलाएं और बुजुर्ग धरने पर बैठे हैं. सरकार धरना देने वालों से कोई बात नहीं करना चाहती है. आज काले कानून के खिलाफ जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे हैं पर सरकार खामोश है.
'दिल्ली-झारखंड के बाद बिहार की बारी'
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार दावा करते हैं कि बिहार में एनआरसी लागू नहीं होने दिया जायेगा. लेकिन, राज्यसभा में कानून पास कराने में बीजेपी का साथ देते हैं. अभी लालू प्रसाद यादव जिंदा हैं. आरजेडी बीजेपी से नहीं डरती है. झारखंड और दिल्ली की जनता ने बीजेपी के काले कानून को हराकर अपनी ताकत दिखा दी है. अब, बिहार के जनता के बारी है. उन्होंने लोगों से अपील किया कि बिहार से भी बीजेपी को उखाड़ दीजिए.
भाजपा भगाओ, देश बचाओ: तेजस्वी यादव
सभा के दौरान तेजस्वी यादव ने लोगों से बीजेपी को उखाड़ फेंकने में मदद मांगी. ‘भाजपा भगाओ, देश बचाओ’ का नारा देते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि आपकी दुआ से हमें लक्ष्य हासिल करने में जरूर मदद मिलेगी. उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव में सांप्रदायिक ताकतों को उखाड़ फेंकने की अपील भी की. सभा में सांसद डॉ. मोहम्मद जावेद आजाद, विधायक हाजी अब्दुस सुबहान, राज्यसभा सांसद डॉ. अहमद अशफाक करीम समेत अन्य उपस्थित थे.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें