1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. rain in bihar preparations for water logging in patna due to heavy rain alert this app will also help skt

पटना में भारी बारिश के अलर्ट को लेकर जलजमाव से निजात दिलाने की तैयारी पूरी, इस ऐप से भी मिलेगी मदद...

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
Social media

पटना: राजधानी को जलजमाव से निजात दिलाने के लिए नगर विकास एवं आवास विभाग ने सभी स्तर पर तैयारी पूरी कर ली है. मौसम विभाग की तरफ से 24 से 27 सितंबर के बीच भारी बारिश के अनुमान के मद्देनजर विभाग अलर्ट मोड में है. इस मामले को लेकर विभाग किसी भी स्तर पर कोताही नहीं बरतने के मूड में है.

विभागीय सचिव की अधिकारियों के साथ गहन समीक्षा

विभागीय सचिव आनंद किशोर ने जलजमाव के तैयारियों की अधिकारियों के साथ गहन समीक्षा की. नगर निगम और बुडको के सभी अधिकारी मौजूद थे. इस दौरान सचिव ने सख्त हिदायत दी कि किसी भी सूरत में शहर में जल जमाव नहीं होना चाहिए. सभी संबंधित अधिकारियों को अपने-अपने स्तर पर इसका फिर से जायजा लेने को कहा. किसी भी हालत में चार से पांच घंटे में राजधानी के किसी मोहल्ले से पानी की निकासी हो जाने को कहा.

निरंतर मॉनीटरिंग करने लगी टीम

इस दौरान अधिकारियों ने बताया कि राजधानी के सभी नालों की उड़ाही करा दी गयी है. सभी संप लगातार चल रहे हैं. जलजमाव के लिए पहले से चिन्हित मोहल्लों में रात में जेनरेटर समेत अन्य सभी उपकरणों को जुटा दिया गया है. वीआइपी इलाके से लेकर सामान्य मुहल्ले में टीम निरंतर मॉनीटरिंग करने में लगी हुई है.

राजधानी में जलजमा नहीं होने देने का दिलाया भरोसा

अधिकारियों ने भरोसा दिलाया कि किसी सूरत में राजधानी में जलजमा नहीं होने दिया जायेगा. अधिक बारिश होने की स्थिति में हर मुहल्ले से चार से पांच घंटे में ही पानी निकालने की व्यवस्था की गयी है. दो दिनों के अंदर सभी अंचलों से सिल्ट हटाने के निर्देश संबंधित कार्यपालक पदाधिकारियों को दिये गये हैं.

एप से भी समस्या का समाधान

पटना में जलजमाव के समाधान के लिए नगर विकास एवं आवास विभाग की तरफ से जारी एप से भी लोग इसका समाधान पा सकते हैं. किसी व्यक्ति को जलजमाव की जानकारी देने के लिए सबसे पहले इस पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा. इसके बाद अपने वार्ड, प्रभावित क्षेत्र का जीपीएस के साथ जलजमाव का फोटोग्राफ अपलोड करना होगा. इस पर लोग जलजमाव के कारणों और समाधान को लेकर सुझाव भी दे सकते हैं. इस शिकायत पर तुरंत कार्रवाई करने के लिए संबंधित कार्यपालक पदाधिकारी को भेज दी जायेगी. संतुष्ट नहीं होने पर लोग दोबारा भी शिकायत कर सकते हैं.

Posted by : Thakur Shaktilochan Shandilya

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें