1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. nitish kumar in delhi before modi cabinet vistar 2021 says on jdu in central cabinet expansion 2021 know latest updates of bihar news skt

Modi Cabinet Vistar 2021: सियासी अटकलों के बीच दिल्ली पहुंचे नीतीश कुमार, केंद्रीय मंत्रिमंडल में जदयू के शामिल होने पर कही ये बात...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
दिल्ली पहुंचे सीएम नीतीश कुमार
दिल्ली पहुंचे सीएम नीतीश कुमार
ANI

केंद्रीय कैबिनेट विस्तार की चर्चाएं अभी राजनीतिक गलियारे में जोर-शोर से है. वहीं इस बीच बिहार का सियासी पारा भी चढ़ा हुआ है. एक तरफ जहां लोजपा में दो फाड़ हुआ है और दूसरे दलों के उपर सेंधमारी का आरोप लगातार लग रहा है वहीं दूसरी ओर कैबिनेट विस्तार में एनडीए के घटक दलों की भागीदारी भी अभी चर्चा में बना हुआ है. इसी बीच बिहार के मुख्यमंत्री की दिल्ली यात्रा बेहद सुर्खियों में है. लोग इसे मंत्रिमंडल विस्तार से जोड़ रहे हैं. वहीं अब नीतीश कुमार ने खुद इन विषयों पर अपना पक्ष मीडिया के सामने रखा है.

केंद्रीय मंत्रिमंडल में जदयू की हिस्सेदारी की अटकलें तब और तेज हो गयी जब नीतीश कुमार दिल्ली पहुंचे. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, नीतीश कुमार ने प्रेस से बात करते हुए कहा कि मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी प्रधानमंत्री तय करेंगे. इसका फैसला उनके उपर ही है.

नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री से मुलाकात की बातों को बेबुनियाद बताया और इससे इंकार किया. उन्होंने कहा कि सभी साथ हैं और विवाद की कोई बात नहीं है. बता दें कि हाल में ही जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने लगातार यह दावा किया है कि जदयू केंद्र सरकार के कैबिनेट विस्तार में शामिल होने जा रही है.

बता दें कि नीतीश कुमार मंगलवार को विशेष विमान ने दिल्ली पहुंचे. यहां मीडिया से बात करते हुए उन्होंने बताया कि ये उनकी निजी यात्रा है. उन्हें आंख का इलाज कराना है जिसके कारण वो दिल्ली आए हैं. इससे पहले जदयू के सांसद ललन सिंह ने इस बात की जानकारी दी थी कि मुख्यमंत्री आंख की जांच कराने दिल्ली जाने वाले हैं.

गौरतलब है कि केंद्रीय कैबिनेट विस्तार की चर्चाएं राजनीतिक गलियारे में लगातार गूंज रही है. नरेंद्र मोदी की सरकार बनने के बाद यह तय किया गया था कि एनडीए के सभी घटक दलों की भागीदारी केंद्रीय कैबिनेट में होगी. जिसके बाद अब इसबार जदयू की हिस्सेदारी को लेकर अटकलें तेज है.

हालांकि एक तरफ जहां ललन सिंह ने कहा कि ये प्रधानमंत्री का विशेषाधिकार है और अटकलबाजी से राजनीति नहीं होती वहीं दूसरी ओर आरसीपी सिंह मजबूत दावा कर रहे हैं कि जदयू हर हाल केंद्रीय कैबिनेट में शामिल होगी.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें