25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

बिहार: IAS केके पाठक ने किया शिक्षा सचिवालय का औचक निरीक्षण, अनुपस्थित दो पदाधिकारियों को नोटिस

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक गुरुवार को अचानक ही शिक्षा सचिवालय का औचक निरीक्षण करने पहुंच गए. जहां उन्होंने सभी दफ्तरों का मुआयना किया है. इस दौरान उनके कई सवालों का प्रशाखा पदाधिकारी घबराहट में ठीक से जवाब भी नहीं दे सकें.

पटना. गुरुवार की सुबह ठीक साढ़े नौ बजे शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक दफ्तर पहुंचे. दो मिनट बाद ही वे अचानक सचिवालय के गलियारे में जा पहुंचे. हतप्रभ कर्मचारी उस समय परेशान हो गये, जब वे निरीक्षण के लिए विभिन्न शाखाओं में जा पहुंचे. पूरे सचिवालय में प्रत्येक दफ्तर का मुआयना किया. बिना किसी सूचना के दफ्तर से गायब मिले एक विशेष प्रशाखा पदाधिकारी और एक सहायक पदाधिकारी का वेतन बंद करने के उन्होंने निर्देश दिये. साथ ही दोनों पदाधिकारियों को कारण बताओ नोटिस भी जारी करने के लिये कहा.

के के पाठक के सवालों का जवाब नहीं दे सके कई पदाधिकारी

अपर मुख्य सचिव के के पाठक के सवालों से कई प्रशाखा पदाधिकारी घबराहट में ठीक से सवालों के जवाब तक नहीं दे सके. उन्हें दफ्तरों में कई जगह गंदगी भी दिखी. इसको लेकर उन्होंने सफाई एजेंसी को भी आड़े हाथों लिया. उसे सख्त चेतावनी दी. सफाई एजेंसी पर जुर्माना लगाने के निर्देश भी दिये.

बर्दाश्त नहीं होगी लापरवाही : केके पाठक 

अपर मुख्य सचिव पाठक जब कार्यालयों में भ्रमण कर रहे थे, इसकी सूचना विभागीय निदेशकों को मिली. वह भी उनके पीछे-पीछे लग गये. इस बीच कई अफसरों परेशान दिख रहे थे. वे बेचारे इधर से उधर व्यवस्थाओं में लगे दिखे. करीब एक घंटे तक शिक्षा विभाग के सचिवालय का माहौल गर्म रहा. विभागीय सचिवालय में विशेष मकसद से रोजाना पहुंचने वाले लोग हो रहे निरीक्षण को देख उल्टे पैर वापस हो गये. निरीक्षण के दौरान अपर मुख्य सचिव ने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियो को दो टूक बता दिया कि समय पर आये और समय पर जायें. किसी भी कीमत पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

Also Read: बिहार सरकार को चार वर्षीय स्नातक कार्यक्रम नामंजूर, शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव ने राजभवन को लिखी चिट्ठी
दिए निर्देश 

सूत्रों के मुताबिक केक पाठक ने कार्यालयों में पेयजल के विशेष प्रबंध कराने के निर्देश भी दिये हैं. साथ ही उन्होंने दूसरी अव्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के लिए निदेशकों को हिदायतें दी हैं.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें