1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. hundred percent of the amount spent but half the population of this panchayat of bihar thirsty asj

सौ फीसदी राशि खर्च, पर बिहार की इस पंचायत की आधी आबादी प्यासी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
'जल' संकट
'जल' संकट
फाइल

दानापुर. प्रखंड की 13 पंचायतों में नल जल योजना अभी धरातल पर नहीं उतर सकी है. ग्रामीण और जनप्रतिनिधि अधिकारियों से लगातार अनियमितता की शिकायतें कर रहे हैं. करोड़ों रुपये खर्च के बाद भी अधिकतर योजनाओं से ग्रामीणों को पीने के लिए पानी नहीं मिल पा रहा है. वर्ष 2016 में सात निश्चय के तहत हर घर नल का जल योजना शुरू हुई थी.

इस योजना के तहत आम लोगों के घरों तक सहज व सुलभ ढंग से स्वच्छ पेयजल पहुंचाने की मुहिम सरकार ने शुरू की, संबंधित अधिकारियों की अनदेखी व जनप्रतिनिधियों की सुस्ती से योजना का लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा है.

डीएम से लेकर कई अफसरों से हुई शिकायत

योजनाओं के क्रियान्वयन में गड़बड़ी की शिकायत डीएम से लेकर संबंधित अधिकारियों तक पहुंचायी गयी है. आला अधिकारियों ने कई बार जांच भी की, लेकिन योजना के क्रियान्वयन में अभी तक सुधार नहीं दिख रहा है.

वर्षों पूर्व हुई बोरिंग व पानी टंकी से घरों में नहीं पहुंच रहा पानी

गांव में वर्षों पूर्व बोरिंग व पानी टंकी लगायी गयी थी. घरों तक पानी पहुंचाने के लिए पाइप लाइन बिछाकर नल का भी कनेक्शन भी दिये गये थे. लेकिन, कई ऐसे वार्ड हैं, जहां पानी नहीं पहुंच रहा है. कई वार्ड की गलियों में बिछायी गयी पाइप टूट गयी है.

दो करोड़ से ज्यादा खर्च, फिर भी कई वार्डों में पानी नहीं

दियारे की पुरानी पानापुर पंचायत के 20 वार्डों में नल जल योजना के तहत करीब दो करोड़, चालीस लाख 99 हजार 570 राशि खर्च कर दिये जाने के बाद भी आठ से दस वार्डों में आज भी पानी टंकी शोभा की वस्तु बनी हुई है. निर्माण के बाद बोरिंग व पानी टंकी से एक बूंद शुद्ध पेयजल लोगों को नसीब नही हुआ है.

कहीं बिजली तो कहीं दूसरे कारणों से पानी नहीं

वार्ड 2 में एक साल पूर्व बोरिंग व पानी टंकी का निर्माण कराया गया था. आज तक चालू नहीं किया गया है. वार्ड 4 में दो साल पूर्व बोरिंग व पानी टंकी का निर्माण कराया गया था. पिछले दो दिन से बोरिंग चालू किया गया. नलों से एक बूंद पानी नहीं गिर रहा है. यह हाल वार्ड 6 का है. वार्ड 3 में बोरिंग व पानी टंकी को पिछले 15 दिनों से चालू किया गया है. वार्ड 15 में दो साल पूर्व बोरिंग किया गया था, परंतु आज तक पानी टंकी नहीं है.

वार्ड 20 में 2018 में बोरिंग व पानी टंकी का निर्माण कराया गया था. बिजली के वोल्ट के कारण आज तक बोरिंग नहीं चालू हुआ है. वार्ड 19 में भी 15-20 दिनों से बोरिंग व पानी टंकी से पेयजलापूर्ति की रही है. वार्ड 10 में मोटर जल जाने के कारण बोरिंग बंद है. वार्ड 13 में दो माह से बोरिंग बंद था और पिछले चार दिन पहले उसे चालू किया गया है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें