1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar legislative council elections 2020 political disputes between jdu rjd

बिहार विधान परिषद चुनाव : जदयू -राजद में तकरार तेज

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
जदयू -राजद में तकरार तेज
जदयू -राजद में तकरार तेज
ट्वीटर

पटना : राजद विधान पार्षदाें की टूट के एक दिन बाद पार्टी उम्मीदवारों के नामांकन के मौके पर तेजस्वी यादव ने कहा कि हमारी प्रतिबद्धता बिहार की बेहतरी के लिए है. विपक्ष की भूमिका हम पूरी ताकत के साथ निभाते रहेंगे. इस दिशा में हमारे तीनों प्रत्याशी तैयार हैं. उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि नेपाल से सटे इलाके में सरकार बेबस दिखाई दे रही है. बेरोजगारी के मोर्चे पर जदयू-भाजपा की सरकार फेल है. पांचों एमएलसी के पार्टी छोड़ने से जुड़े सवाल के बारे मेें उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान हर बार यह होता है. उनके जाने से कोई फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि जनता हमारे साथ है.

उन्होंने जदयू का बिना नाम लिये कहा कि उनके लोग भी नाराज हैं. देखिए आगे क्या होता है? राजद के एमएलए प्रत्याशियों के नामांकन दाखिल करने के ठीक बाद विधानसभा भवन के सात नंबर लॉबी में राजद के विधायकों की बैठक हुई. करीब एक घंटे चली बैठक में तेजस्वी यादव ने विधायकों से खैरियत पूछी. इसके बाद एमएलसी के तीनों प्रत्याशियों से विधायकों के समक्ष अपने विचार रखने के लिए कहा. इस मीटिंग के जरिये पार्टी आलाकमान ने एमएलसी प्रत्याशियों का विधायकों परिचय कराया. साथ ही विधायकों का मूड भांपने का प्रयास भी किया. हालांकि, यह मीटिंग बेहद अनौपचारिक रही. एमएलएसी प्रत्याशियों के नामांकन दाखिल के दौरान सभी विधायकों को उपस्थित रहने का संदेश दिया गया था ताकि सत्ता पक्ष को संदेश दिया जा सके कि पार्टी एकजुट है. मीटिंग के दौरान प्रत्याशी सुनील सिंह ने कहा कि वे किसानों की बेहतरी के लिए काम करते रहेंगे.

तेजस्वी यादव की बातों का कोई मतलब नहीं

लोकसभा में जदयू संसदीय दल के नेता राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने कहा कि हम तेजस्वी यादव को तवज्जो नहीं देते. उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति आकंठ भ्रष्टाचार में डूबा हुआ हो उसे बिहार के विकास और कल्याण पर बात करने का अधिकार नहीं है. इसलिए तेजस्वी यादव की बातों का कोई अर्थ नहीं. श्री सिंह ने राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पर पलटवार करते हुए कहा कि उन्हें कुछ भी बोलने से पहले अपने गिरहबान में झांकना चाहिए. वो जिस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष हैं, वहां राज्यसभा से लेकर विधानसभा और विधान परिषद का टिकट बिकता है.

उन्होंने कहा कि कई बार हमारे संज्ञान में आया है कि राजद से टिकट मिलने के बाद भी सिंबल देने के नाम पर लालू प्रसाद कहते थे कि कुछ और माल दोगे तब न सिंबल देंगे. उन्होंने जगदानंद सिंह से कहा कि अपनी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष होने के नाते वे कहें कि अब राजद में बिना पैसा का टिकट मिलेगा. उन्होंने कहा कि देश-दुनिया का हर आदमी जानता है कि देश के चुनिंदा इमानदार नेतृत्व में नीतीश कुमार एक हैं. बिहार की जनता को भी गर्व है कि नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री हैं. उन्होंने कहा कि जगदानंद सिंह कहते हैं चार महीना इंतजार करिए हमारे वोटर खेत- खलिहान में रहते हैं, तो ये भावना भड़काने का समय खत्म हो गया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार की राजनीति में एक नयी संस्कृति पैदा की है, न्याय के साथ विकास.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें