1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar election owaisi led aimim wanted to join mahagathbandhan for bihar assembly election 2020 rjd refused asaduddin owaisi disclosed skt

Bihar Election: महागठबंधन में शामिल होना चाहते थे ओवैसी, राजद ने किया मना तो रोक दिया तेजस्वी के मुख्यमंत्री बनने का रास्ता

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
असुद्दीन ओवैसी
असुद्दीन ओवैसी
(फाइल फोटो )

बिहार विधानसभा चुनाव(Bihar Election 2020) में इस बार ओवैसी( Owaisi) की पार्टी AIMIM ने भी अपना जलवा दिखाया है. पिछले उपचुनाव में किशनगंज की सीट जीत बिहार विधानसभा में अपनी दस्तक देने वाली पार्टी एआइएमआइएम ने इस बार बिहार चुनाव 2020 में पांच सीटों पर जीत दर्ज की है. वहीं सीमांचल के कई सीटों पर महागठबंधन को इसका नुकसान भी झेलना पड़ा है. Bihar Chunav News से जुड़ी हर खबर के लिये बने रहिये Prabhat Khabar पर.

ओवैसी की पार्टी AIMIM ने 20 सीटों पर लड़कर कुल पांच सीटों पर जीत हासिल की

बिहार चुनाव 2020 के परिणाम घोषित होने पर सीमांचल में ओवैसी के प्रत्याशियों का जलवा दिखा. ओवैसी की पार्टी AIMIM ने इस चुनाव में 20 सीटों पर लड़कर कुल पांच सीटों पर जीत हासिल की है. वहीं कई सीटों पर उनके प्रत्याशियों ने दूसरों का खेल बिगाड़ा है. चुंकि मुस्लिम वोटर बिहार में राजद के नेतृत्व वाले महागठबंधन के माने जाते रहे इसलिए इसे सीधे तौर पर महागठबंधन का नुकसान माना जा रहा है. बंगाल के कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने ओवैसी की पार्टी AIMIM को बिहार में वोट कटवा तक कह दिया है.

वोट कटवा के आरोप में कहा राजद ने शामिल करने से किया था मना 

वहीं इस आरोप का खंडन करते हुए AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि ये सभी आरोप बेवहज लगाए जाते हैं. ओवैसी ने कहा कि हम बिहार विधानसभा चुनाव में राजद गठबंधन के साथ रहने के पक्ष में थे. हमारे अधिकारियों व मुसलमान उलेमाओं ने पटना जाकर इस बारे में राजद के नेताओं से बात भी की थी. लेकिन राजद ने इस तरफ कोई दिलचस्पी नहीं ली.

दिल्ली में भी राजद नेताओं ने नहीं मानी ओवैसी की बात

उन्होंने कहा कि मैने दिल्ली में खुद राजद के बड़े नेताओं, जो राज्यसभा में भी सांसद हैं, उनसे इस बारे में बात की थी. लेकिन उन्होंने भी इस तरफ कोई दिलचस्पी नहीं ली. जिसके बाद हमने रालोसपा के नेतृत्व वाले गठबंधन के साथ जाकर चुनाव लड़ा.

 बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में AIMIM को 5,23,279 वोट

ओवैसी ने कहा हम लगातार मेहनत कर रहे थे. कुछ समय पहले हम 6 सीटों पर लड़े थे जिसमें 5 में जमानत जब्त हुई थी. उसके बाद 1 सीट पर उपचुनाव में जीते और अब 5 सीटों तक पहुंचे हैं.बता दें कि इस विधानसभा चुनाव में AIMIM को 5,23,279 वोट हासिल किया. जो कुल मतों का 1.24% है.

राजद क्यों नहीं चाहती ओवैसी का साथ? 

राजनीतिक जानकारों का कहना है कि राजद अपने मुस्लिम वोट बैंक में किसी की हिस्सेदारी नहीं चाहती है. वहीं मुस्लिम वोटर ओवैसी के तरफ काफी आक्रमकता से जाते हैं. यह बड़ी वजह है कि भविष्य में अपने MY समीकरण के वोट बैंक की चिंता करते हुए राजद ने एआइएमआइएम के साथ गठबंधन नहीं करना चाहा होगा. हालांकि ओवैसी के वोटर ने कई जगहों पर महागठबंधन को नुकसान पहुंचाया है.

Posted by : Thakur Shaktilochan Shandilya

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें