1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. amhara construction company income tax evasion reached 100 crores raids on all the locations for the second day rdy

Bihar News: 100 करोड़ तक पहुंच गयी अमहारा कंस्ट्रक्शन कंपनी की आयकर चोरी, सभी ठिकानों पर दूसरे दिन भी छापेमारी

राजेंद्र नगर मोहल्लों में कार्यालय एवं आवासीय परिसर के अलावा बिहटा (अमहारा), नेउरा, पुणे, नोएडा, गाजियाबाद, कोलकाता, देवघर एवं मुंबई में मौजूद सभी ठिकानों पर आइटी के विशेष टीम की जांच लगातार जारी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
100 करोड़ तक पहुंच गयी अमहारा कंस्ट्रक्शन कंपनी की आयकर चोरी
100 करोड़ तक पहुंच गयी अमहारा कंस्ट्रक्शन कंपनी की आयकर चोरी
सोशल मीडिया.

पटना. आयकर विभाग (आइटी) की अमहारा कंस्ट्रक्शन कंपनी के सभी ठिकानों पर दूसरे दिन भी छापेमारी हुई. सभी स्थानों पर बरामद कागजातों, बैंक डिपॉजिट, पोस्ट ऑफिस में निवेश, जीएसटी में गड़बड़ी समेत अन्य आयकर चोरी का आंकड़ा बढ़ कर करीब सौ करोड़ पहुंच गया है. हालांकि यह आंकड़ा आयकर विभाग के स्तर से छापेमारी पूरी होने के बाद ही स्पष्ट हो पायेगा. परंतु शुरुआती जांच में बड़ी गड़बड़ी सामने आ रही है. जांच पूरी होने के बाद भी आंकड़ा इसके आसपास ही रहेगा.

जांच में इस कंपनी के मालिक राकेश कुमार सिंह के बेटे का पुणे में एक शानदार रेस्टोरेंट के होने का पता चला है. फिलहाल इसकी भी जांच चल रही है. पटना में बाजार समिति, एक्जीबिशन रोड एवं राजेंद्र नगर मोहल्लों में कार्यालय एवं आवासीय परिसर के अलावा बिहटा (अमहारा), नेउरा, पुणे, नोएडा, गाजियाबाद, कोलकाता, देवघर एवं मुंबई में मौजूद सभी ठिकानों पर आइटी के विशेष टीम की जांच लगातार जारी है. दूसरे दिन के सर्च के दौरान शहर के एक्जीबिशन रोड स्थित बालाजी रीजेंसी स्थित उनके लग्जरी फ्लैट से 65 लाख कैश मिला है.

इससे पहले गुरुवार को उनके राजेंद्र नगर स्थित आवास से साढ़े तीन करोड़ रुपये कैश मिले थे, लेकिन देर रात तक इसी घर के कुछ अन्य स्थानों से कुछ और कैश मिले. इससे यहां से बरामद राशि बढ़कर करीब चार करोड़ हो गयी है. इस तरह दोनों स्थानों से बरामद कैश की संख्या पौने पांच करोड़ पहुंच गयी है.

इसके अलावा जमीन के कागजातों की संख्या बढ़ गयी है. पहले से देशभर में 50 स्थानों पर कागजातों बरामद हो चुके हैं. इन सभी स्थानों पर जमीन के प्लॉट और फ्लैट-मकान के कागजातों की संख्या बढ़ गयी है. फिलहाल यह संख्या कितनी है और इसका मूल्य कितना है. इसकी पूरी जानकारी छापेमारी की प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही मिल पायेगी.

Posted by: Radheshyam Kushwaha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें