बिहार के मधुबनी निवासी अनुज कुमार झा श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट में शामिल, ...जानें कौन हैं?

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पटना : अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए गठित श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट में केंद्र सरकार ने बिहार के रहनेवाले आईएएस अधिकारी अनुज कुमार को यूपी सरकार के प्रतिनिधि के रूप में पदेन ट्रस्टी बनाया गया है. अनुज कुमार वर्तमान में अयोध्या के जिलाधिकारी हैं. मालूम हो कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के ट्रस्टी के दलित सदस्य के रूप में बिहार के बीजेपी के हार्डकोर सदस्य रहे कामेश्वर चौपाल को नियुक्त किया था.

जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के प्रतिनिधि के रूप में दो आईएएस अफसरों को श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट शामिल किया है. इनमें बिहार के मधुबनी निवासी अयोध्या के जिलाधिकारी अनुज कुमार झा को भी नामित पदेन सदस्य बनाया गया है. मालूम हो कि अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के समय से ही अनुज कुमार झा अयोध्या के जिलाधिकारी हैं. उत्तर प्रदेश शासन के पत्र के मुताबिक, यदि अयोध्या के जिलाधिकारी कोई हिंदू धर्म को माननेवाले नहीं बनते हैं, तो ऐसी स्थिति में अपर जिलाधिकारी पदेन सदस्य होंगे.

बिहार के मधुबनी में पांच नवंबर, 1981 को जन्मे अनुज झा की गिनती तेज-तर्रार आईएएस अफसर के रूप में की जाती है. अनुज झा ने पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में एमए किया है. वह 2009 बैच के आइएएस अधिकारी हैं. वह, महोबा, कन्नौज, रायबरेली, बुलंदशहर जिलों में जिलाधिकारी रहे हैं. उसके बाद 15 फरवरी, 2009 को अयोध्या का जिलाधिकारी बनाया गया था. उसके बाद से वह अब तक तैनात हैं.

दलित सदस्य के रूप में कामेश्वर चौपाल ट्रस्ट में शामिल

इससे पहले बिहार के मिथिलांचल निवासी बीजेपी के हार्डकोर सदस्य कामेश्वर चौपाल को श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के ट्रस्टी के दलित सदस्य के रूप में शामिल किया गया था. सुपौल जिले के मरौना गांव के मूल निवासी कामेश्वर चौपाल ने 1989 में अयोध्या में राम मंदिर की नींव रखे जाने के दौरान पहली ईंट रखी थी. 64 वर्षीय कामेश्वर चौपाल श्रीराम लोक संघर्ष समिति के बिहार के संयोजक रहे हैं. भाजपा के प्रदेश मंत्री रहे कामेश्वर चौपाल बिहार विधान परिषद के दो बार सदस्य भी रहे हैं. 1973 में मैट्रिक की परीक्षा उत्तीर्ण करनेवाले कामेश्वर चौपाल की उच्च शिक्षा मधुबनी और दरभंगा में हुई है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें