पटना एम्स के सामने दवा दुकानों से रंगदारी को लेकर गोलीबारी के बाद दवा कारोबारियों ने जाम की सड़क

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

फुलवारीशरीफ : पटना एम्स के सामने की दवा दुकानदारों से रंगदारी मांगे जाने और दहशत फैलाने के लिए गोलीबारी किये जाने के बाद दहशत में आये दवा कारोबारी दुकानों को बंद कर सड़क पर उतर आये. साथ ही राष्ट्रीय राजमार्ग को जाम कर प्रशासन से जान-माल की सुरक्षा की मांग करने लगे. बाद में पुलिस के वरीय अधिकारी मौके पर पहुंचे और सुरक्षा का आश्वासन दिया. करीब चार घंटों तक सड़क जाम रहने के बाद दवा कारोबारी सड़क से हटे.

जानकारी के मुताबिक, पटना एम्स के सामने तीन दवा दुकानदारों से बाइक सवार बदमाशों द्वारा पांच-पांच लाख रुपये रंगदारी की मांग किये जाने के बाद दहशत फैलाने के लिए की गयी गोलीबारी के बाद दवा कारोबारियों ने एम्स के सामने की सभी दुकानों को बंद कर नेशनल हाइवे को जाम कर दिया. दवा दुकानदारों के आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन से सैंकड़ों वाहनों की कतार लग गयी. इसमें एम्स के डायरेक्टर की गाड़ी भी काफी देर तक फंसी रही. गोलीबारी के विरोध में दवा दुकानों को बंद कर प्रदर्शन कर रहे कारोबारियों ने प्रशासन से जान-माल की सुरक्षा की मांग कर रहे थे.

मौके पर पहुंचे थानेदार रफीकुर रहमान ने आक्रोशित दवा दुकानदारों को समझाने का काफी प्रयास किया, लेकिन वे मानने को तैयार नहीं हुए. इसके बाद डीएसपी संजय कुमार ने दवा कारोबारियों को पूरी सुरक्षा दिये जाने का आश्वासन दिया, तब प्रदर्शनकारी दवा दुकानदारों ने करीब करीब चार घंटे बाद राष्ट्रीय राजमार्ग से हटे और आवागमन सुचारू हो पाया. डीएसपी ने दवा कारोबारियों के साथ बैठक भी की. उधर, पुलिस ने गोलीबारी कर भाग रहे बदमाशों का सीसीटीवी फुटेज निकालकर उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें