VIDEO में देखिए, हत्या करने और थप्पड़ मारने पर मिलेगा अब करोड़ों का इनाम, विवाद शुरू

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पटना : गाहे-बगाहे उत्तर प्रदेश के कई फतवा जारी करने वालों की ओर से यह सुनने को मिलता है कि इस व्यक्ति का गला काट दो, इसे गाली दे दो और उसे मार देने पर उक्त व्यक्ति को इतने की राशि इनाम में दी जायेगी. कुछ ऐसे फरमान बंगला देश से लेखिका तस्लीमा नसरीन के खिलाफ, पाकिस्तान से ‘मिडनाइट् चिल्ड्रेन’ के लेखक सलमान रुश्दी के खिलाफ सुनने को मिलते रहे हैं. कुछ इसी तरह का फरमान बिहार के नेता जारी करने लगे हैं. बिहार की राजनीति में हाल में एक ऐसी घटना हुई जिसे लेकर भाजपा के एक जिम्मेदार नेता ने कुछ इसी तरह का फरमान जारी किया है. भाजपा के पटना इकाई के मीडिया सेल में कार्यरत यह नेता पूर्व में जदयू से राज्यसभा सांसद रह चुके हैं. नाम है अनिल सहनी. अनिल ने यह कहा है कि राजद सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव को जो थप्पड़ रसीद करेगा, उसे यह एक करोड़ रुपया इनाम में देंगे.

इसी सप्ताह बुधवार को औरंगाबाद में एक सार्वजनिक मंच से तेज प्रताप यादव ने उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के बारे में आपत्तिजनक बयान दिया और कहा कि उनके बेटे की शादी में वह बाधा उत्पन्न करेंगे और घर में घुसकर मारेंगे. तेज प्रताप के इस बयान की चारों ओर आलोचना हुई, यह तक की लालू यादव ने भी यह कहा कि सुशील मोदी तेज प्रताप के बयान की चिंता न करें और अपने बेटे की शादी करें. उसके बाद प्रतिक्रिया में भाजपा के एक नेता नेशुक्रवारको घोषणा की कि बिहार के उपमुख्यमंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देने वाले राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेज प्रताप यादव को जो कोई व्यक्ति थप्पड़ मारेगा, उसे एक करोड रुपये दिये जायेंगे.



हालांकि बिहार भाजपा इकाई ने पटना जिले के भाजपा मीडिया प्रभारी अनिल सहनी की इस टिप्पणी से खुद को अलग कर लिया और उसकी निंदा की. भाजपा ने कहा कि वह सहनी के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करेगी. साहनी ने कहा था, जो कोई भी व्यक्ति तेज प्रताप यादव को थप्पड मारेगा, हम उसे एक करोड रुपये देंगे. राजद नेता ने हमारे सम्मानीय उपमुख्यमंत्री के घर में, तीन दिसंबर को उनके बेटे की शादी के दौरान, घुसकर उनके साथ मारपीट करने की धमकी दी थी. हम यादव को उसी भाषा में जवाब देना चाहते हैं. भाजपा नेता हाल के एक वीडियो फुटेज पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें राजद सुप्रीमो के बड़े बेटे और पूर्व मंत्री तेज प्रताप कथित रूप से सुशील मोदी के बेटे के शादी में तोड़फोड़ करने की धमकी दे रहे हैं और घर में घुसकर मारेंगे जैसी बातें कर रहे हैं.

अभी यह मामला चल ही रहा था कि जनाधिकार मोर्चा के सुप्रीमो और सासंद पप्पू यादव ने मोकामा इलाके में आतंक का पर्याय बन चुके कुख्यात अपराधी श्याम सुंदर यादव को क्लीन बोल्ड करने के लिए दो लाख रुपये के इनाम की घोषणा की है. पप्पू यादव अपनी पार्टी नेताओं के साथ शुक्रवार को मोकामा पहुंचकर उन परिवारों से मुलाकात की जिनके साथ कुख्यात श्याम सुंदर ने बर्बरता की हदें पार कर दी. लोगों से मिलने के बाद सांसद ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि गरीब गुरबों को सताने वालों के खिलाफ उनकी जंग जारी रहेगी. जो लोग भी जनता के साथ अन्याय करेंगे उनके लिए पप्पू यादव कठोर कदम उठायेंगे. उन्होंने लोगों के सामने ही श्याम सुंदर के सफाये के लिए 2 लाख की इनामी राशि का ऐलान कर दिया. कुल मिलाकर बिहार में इन दिनों ऐसी घटनाओं को सार्वजनिक रूप से अंजाम देने वालों को इनाम देने की घोषणा राजनीति में एक नये और विवादास्पद कल्चर को जन्म दे रहा है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें