17.1 C
Ranchi
Tuesday, March 5, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

बिहार: वैशाली में दीदी की ननद से हुआ प्यार, शादी से इंकार करने पर हुआ पकड़ौआ विवाह, जानें पूरा मामला

Pakadwa Vivah Bihar: बिहार के वैशाली जिले से पकड़ौआ विवाह हुआ है. यहां दीदी की ननद से एक शख्स को प्यार हो गया. इसके बाद इसने शादी से इंकार कर दिया. इस कारण इसकी जबरदस्ती शादी हुई है.

Pakadwa Vivah Bihar: बिहार के वैशाली जिले से पकड़ौआ विवाह का मामला सामने आया है. यहां पहले भी बीपीएससी के शिक्षक का पकड़ौआ विवाह हुआ था. इसके बाद अब नया मामला प्रकाश में आया है. बताया जाता है कि दीदी की ननद से एक शख्स का सात सालों से प्रेम संबंध चल रहा था. इसके बाद इसने शादी से इंकार कर दिया. वहीं, कारण लड़की के घर वालों और ग्रामीणों ने इनकी जबरन शादी करा दी है. इनकी शादी मंदिर में करवाई गई है. वहीं, इस विवाह को देशने के लिए सैकड़ों लोगों की भीड़ मंदिर में जुट गई थी. शादी से इंकार करने पर लड़के की जबरन शादी कराई गई है.

सात सालों से चल रहा था प्रेम- प्रसंग

बताया जा रहा है कि इनका प्रेम संबंध सात सालों से चल रहा था. वहीं, लड़के का कहना है कि वह लड़की से प्रेम नहीं करता है और जबरन इसकी शादी कराई गई है. यह पूरा मामला जिले के महनार स्टेशन रोड स्थित संगंत मंदिर की है. इस प्रेमी जोड़े और इस शादी को देखने के लिए लोगों की भीड़ जुट गई थी. शादी के दौरान लड़का, लड़की के गले में माला डालने के लिए भी तैयार नहीं था. इसके अलावा वह लड़की की मांग में सिंदुर भी नहीं डाल रहा था. लड़के की जबरन शादी करवाई गई है.

Also Read: Ram Mandir: राम के दर्शन के लिए लोग उत्साहित, बिहार से अयोध्या को जाने वाली कई ट्रेनें फुल, बुक हो रहा टिकट
लड़के और लड़की की अक्सर होती थी मुलाकात

शादी में मौजूद लोगों ने जबरन शादी की रस्म को पूरा किया है. महनार नगर परिषद क्षेत्र के सब्जी मंदिर रोड वार्ड संख्या सात का निवासी सुरेंद्र यादव के बेटे अरुण कुमार की जबरदस्ती शादी करवाई गई है. इसका अपनी बहन के घर अक्सर आना – जाना हुआ करना था. इस बीच अपनी बहन की ननद से इसकी मुलाकात भी होती थी. लेकिन, इसने इससे शादी करने से मना कर दिया था. इसके बाद इसकी जबरिया शादी करा दी गई है. लड़की का आरोप है कि वह उसे कही और शादी नहीं करने दे रहा था. लेकिन, खुद भी इससे शादी नहीं कर रहा था. इस कारण उसके परिवार वालों ने लड़के से शादी करवा दी है. इस दौरान यह लड़की से मिलने के लिए पहुंचा था.

Also Read: बिहार: बेगूसराय में पत्नी को रील बनाने से रोकना पति को पड़ा महंगा, परिजनों के साथ मिलकर उतारा मौत के घाट
अपहरण के बाद हत्या मामले में तीन गिरफ्तार

इधर, बांका के रजौन प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत चिलकावर असौता पंचायत के सीकानपुर गांव निवासी रामदेव यादव के नाबालिग पुत्र दिलखुश यादव के अपहरण के बाद हत्या कर शव को तालाब में फेंक दिया गया था. हत्या का आरोप गांव के ही चार लोगों पर लगाया गया है. बताया जा रहा है कि दो जनवरी को नाबालिग की हत्या के बाद शव को गांव के बाहर स्थित तालाब में फेंक दिया गया था, जिसे पुलिस ने बुधवार को बरामद किया था. घटना के बाद से चारों आरोपित अप्पो यादव, विभाष यादव, निर्मल यादव व प्रभाष यादव फरार हैं. थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह ने जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि इस हत्याकांड के तीन संदिग्ध को हिरासत में लिया गया है. पुलिस गिरफ्तार संदिग्धों से पूछताछ कर रही है.

Also Read: बिहार: अहमदाबाद- पटना एक्सप्रेस का बदला मार्ग, कई ट्रेनों का स्टेशन पर बढ़ा ठहराव, चेक करें पूरा रूट

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें