मोकामा से नालंदा आयेगा गंगा जल, घोड़ा कटोरा में होगा स्टोर

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बिहारशरीफ : जिले के राजगीर व बिहारशरीफ शहर की पेयजल की समस्या का निराकरण जल्द होगा. पवित्र गंगा नदी का जल जल्द ही राजगीर, बिहारशरीफ शहर के अलावा नवादा व गया जिलों के लोग पी सकेंगे. जल संसाधन विभाग इन स्थानों पर पेयजल के रूप में गंगा जल पहुंचाने की योजना पर काम कर रहा है.

मोकामा से पाइप लाइन के जरिये इन सभी स्थलों पर गंगा जल पहुंचाया जायेगा. इस प्रोजेक्ट को तीन चरणों में पूरा किया जाना है. प्रथम चरण में ड्रिंकिंग वाटर प्रोजेक्ट के तहत यह काम हो रहा है.
पाइप लाइन के जरिये मोकामा से सरमेरा, बरबीघा, गिरियक होते हुए राजगीर के घोड़ा कटोरा गंगा जल पहुंचेगा. घोड़ा कटोरा में ड्रिंकिंग वाटर के लिए 90 एमसीएम पानी के स्टोरेज की व्यवस्था की जायेगी. घोड़ा कटोरा में ही वाटर ट्रीटमेंट प्लांट लगाया जायेगा. घोड़ा कटोरा से ट्रीटमेंट किया हुआ गंगा जल पाइप के सहारे राजगीर व बिहारशरीफ तक पहुंचाने की योजना है.
वहीं से गंगा जल नवादा व गया भी भेजा जायेगा. घोड़ा कटोरा में टाउन वाइज वाटर स्टोरेज टैंक भी बनाये जायेंगे. इस प्रोजेक्ट के पूरा हो जाने पर इन शहरों के लोगों को अधिक मात्रा में स्वच्छ पेयजल के रूप में पवित्र गंगा नदी का जल उपलब्ध होने लगेगा.
राज्य सरकार की यह है महत्वाकांक्षी योजना : राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी गंगा जल उद्भव योजना के तहत मोकामा से गंगा जल नालंदा लाया जायेगा. इस योजना को जल संसाधन विभाग द्वारा क्रियान्वित किया जा रहा है. मोकामा से गंगा नदी का पानी औंटा टाल, मोकामा टाल के रास्ते सरमेरा, बरबीघा, गिरियक होते हुए घोड़ा कटोरा पहुंचाया जायेगा.
पाइप लाइन के माध्यम से नालंदा, नवादा व गया भेजा जायेगा गंगाजल
घोड़ा कटोरा से राजगीर व बिहारशरीफ टाउन को होगी गंगा जल की आपूर्ति
तीन चरणों में होगा कार्य, प्रथम चरण में ड्रिंकिंग वाटर प्रोजेक्ट के तहत हो रहा काम
मोकामा में स्थल चयन की चल रही प्रक्रिया
मोकामा में किस स्थान से गंगा जल को नालंदा भेजा जायेगा, यह अभी तय नहीं हुआ है. पहले हाथीदह से गंगा जल को नालंदा भेजने की योजना थी. हाथीदह में जिस स्थान को चिह्नित किया गया था, वह जमीन रेलवे की है. इसलिए रेलवे से एनओसी मिलने में परेशानी को देखते हुए अन्य स्थान की तलाश की जा रही है.
क्या कहते हैं अधिकारी
मोकामा से गंगा जल नालंदा भेजने के लिए स्थल अभी तय नहीं हुआ है. स्थल चयन करने के लिए अधिकारियों ने कुछ स्थलों का जायजा लिया है. उम्मीद है कि जल्द ही स्थल चयन कर लिया जायेगा. स्थल चयन होने के बाद आगे की प्रक्रिया जल्द शुरू की जायेगी.
खुर्शीद आलम, कार्यपालक अभियंता, सिंचाई विभाग, नालंदा
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें