25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

गोली लगने के पांच माह बाद इलाजरत युवक की मौत

वैशाली जिला के लालगंज थाना क्षेत्र के पोझियां गांव निवासी राम निरंजन ठाकुर के पुत्र ऋषिकांत कुमार (20) की सरैया थाना क्षेत्र के तिलक पकड़ी गांव में शादी समारोह में गोली लगने के 5 माह बाद इलाज के क्रम में हुई मौत मामले में काफी जद्दोजहद के बाद वैशाली पुलिस अधीक्षक के आदेश से 2 वर्ष बाद सरैया पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की.

प्रतिनिधि, सरैया वैशाली जिला के लालगंज थाना क्षेत्र के पोझियां गांव निवासी राम निरंजन ठाकुर के पुत्र ऋषिकांत कुमार (20) की सरैया थाना क्षेत्र के तिलक पकड़ी गांव में शादी समारोह में गोली लगने के 5 माह बाद इलाज के क्रम में हुई मौत मामले में काफी जद्दोजहद के बाद वैशाली पुलिस अधीक्षक के आदेश से 2 वर्ष बाद सरैया पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की.दर्ज प्राथमिकी बताया गया है कि विगत 18 मई 2022 को शादी समारोह में तिलक पकड़ी में ऋषिकांत कुमार (20) को अपराधियों ने गोली मार दिया था.गोली उसके रीढ़ की हड्डी में फंस गई थी.काफी इलाज के बाद लखनऊ के एक अस्पताल में इलाज के क्रम में 08 नवंबर 2022 को मौत हो गई. मामले में मृतक के पिता ने वैशाली जिले के लालगंज थाना क्षेत्र के दौलतपुर चांदी निवासी नंदकुमार सिंह के पुत्र प्रियरंजन सिंह ऊर्फ गब्बर सिंह सहित अन्य को आरोपित किया है.पीड़ित पिता ने बताया कि घटना के बाद से करीब दो साल तक वैशाली जिले के लालगंज पुलिस और मुजफ्फरपुर जिले की सरैया पुलिस के पास चक्कर लगाने के बाद भी प्राथमिकी दर्ज नहीं हुई. अंततः अंतिम उम्मीद के साथ वैशाली पुलिस अधीक्षक को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाया.मामले में संज्ञान लेते हुए आरक्षी अधीक्षक वैशाली ने नगर थाना हाजीपुर को प्राथमिकी दर्ज कर सरैया थाना को अग्रसारित करने का आदेश दिया. जब उक्त आवेदन सरैया थाना पहुंचा तो सरैया थाना पुलिस ने घटना के दो साल बाद मामला दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें