25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

मुजफ्फरपुर में नहीं छप रहे वाहन संबंधी कागजात, इस दो APPS का इस्तेमाल कर आसान बनाएं जिंदगी

डिजिलॉकर में विभिन्न सरकारी दस्तावेज ऑनलाइन रख सकते हैं. वहीं एम परिवहन एप गाड़ी से संबंधित दस्तावेज डाउनलोड करने का प्लेटफॉर्म है. दोनों एप नि:शुल्क हैं. पहली बार रजिस्टर होकर पासवर्ड से कर सकते है लॉक

Muzaffarpur RTO: मुजफ्फरपुर जिला परिवहन कार्यालय में बीते दो माह से ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) व गाड़ी के ऑनरबुक (आरसी) की प्रिंटिंग नहीं हो रही है. ऐसे में लोगों के लिए डिजिलॉकर व एम परिवहन द्वारा शुरू किया गया सबसे उपयोगी एप्लीकेशन है. इस ऐप में दस्तावेज रखने के बाद भौतिक रूप से वाहन संबंधित दस्तावेज रखने की आवश्यकता नहीं है. यह दोनों ही एप निःशुल्क व सरकारी प्लेटफॉर्म है. दोनों में बस यह अंतर है कि डिजिलॉकर में सरकार वैसे दस्तावेज जो ऑनलाइन है, इसमें डाउनलोड कर सकते हैं. वहीं, एम परिवहन एप केंद्रीय परिवहन मंत्रालय द्वारा जारी किया गया है, इसमें केवल गाड़ी संंबंधित दस्तावेज ही डाउनलोड कर सकते हैं.

पुलिस को भी इन एप पर दिखा सकते हैं कागजात

इतना ही नहीं, सड़क पर जांच कर रहे परिवहन, यातायात व पुलिस के पदाधिकारी के समक्ष भी दोनों एप में दर्ज दस्तावेज मान्य हैं. इस दोनों में से किसी एप में डीएल, आरसी, इंश्योरेंस, प्रदूषण प्रमाण पत्र, फिटनेस, परमिट आदि डाउनलोड है तो उस दस्तावेज को भौतिक रूप से रखने की आवश्यकता नहीं है. जिस प्रकार अभी डीएल व आरसी की प्रिंटिंग बंद है, ऐसे में वाहन चालक इन दोनों में से किसी एप में अपना डीएल व आरसी डाउनलोड कर सकते हैं. डीएल अगर व गाड़ी का पेपर ऑनलाइन नहीं है तो वह इसमें डाउनलोड नहीं होंगे.

क्या बोले अधिकारी

डीटीओ सुशील कुमार ने बताया कि डिजिटल रूप से दोनों एप मान्य है. जब तक डीएल व आरसी की भौतिक कॉपी पोस्ट के माध्यम से उपलब्ध नहीं हो जाती है वह इस एप में उसे डाउनलोड कर ले. मुख्यालय द्वारा सेंट्रालाइज्ड व्यवस्था के तहत अब हाजीपुर में कार्ड की प्रिंटिंग होनी है. जिसका काम चल रहा है. तब तक वाहन मालिक इस एप के माध्यम से पेपर लेकर चल सकते हैं.

Also Read: पेपर लीक मामले में EOU के रडार पर परीक्षा एजेंसियां, कान्ट्रैक्ट किसी को, लेकिन काम किसी और ने किया

डिजिलॉकर कैसे काम करता है?

डिजिलॉकर वेबसाइट या ऐप पर जायें और मोबाइल नंबर व आधार से इंट्री करें. अपने दस्तावेज की डिजिटल प्रतियां ई-साइन करें. अपना ड्राइविंग लाइसेंस अपलोड करने के लिए ट्रांसपोर्ट का ऑप्शन चुनें. इसमें अपना डीएल नंबर, जन्मतिथि अंकित करें और अपना डीएल डाउनलोड कर लें. वहीं गाड़ी का आरसी डाउनलोड करने के लिए उसमें गाड़ी नंबर अंकित करें. इसके बाद इंजन व चेचीस नंबर का अंतिम पांच अंक अंकित करें, तो आरसी डाउनलोड हो जायेगी. जिसमें रजिस्ट्रेशन की तिथि, इंश्योरेंस व प्रदूषण प्रमाण पत्र की वैधता, फिटनेस की वैधता आदि की जानकारी मिल जायेगी.

एम-परिवहन में कैसे करें डाउनलोड

एम परिवहन एप को डाउनलोड करने के बाद उसमें अपने मोबाइल नंबर से रजिस्टर होने की प्रक्रिया को अपनायें. इसके बाद उसमें डीएल के ऑप्शन में जाकर डीएल नंबर अंकित कर वर्चुवल डीएल डाउनलोड करें. वहीं इसी तरह आरसी डाउनलोड करने के लिए गाड़ी नंबर, इंजन व चेचिस नंबर का अंतिम पांच अंक अंकित करें और वर्चुवल आरसी डाउनलोड कर लें.कभी-कभी सर्वर स्लो या मेंटेनेंस में होने के कारण डाउनलोड में परेशानी होती है. तो कुछ समय बाद दोबारा से प्रक्रिया को दोहरायें. अगर आपके आरसी पर कोई चालान हुआ है तो उसे भी आप देख सकते हैं.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें