26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

मारपीट में घायल वृद्ध की सदर अस्पताल में इलाज के दौरान मौत

भू-माफिया और दबंगों की थी मृतक सुखदेव विश्वकर्मा की कीमती चार कट्ठा जमीन पर नजर

मुंगेर. मारपीट में घायल कोतवाली थाना क्षेत्र के शादीपुर निवासी 75 वर्षीय सुखदेव विश्वकर्मा की मौत गुरुवार की सुबह इलाज के दौरान सदर अस्पताल में हो गयी. उनकी बेटी के बयान पर कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी. इसमें पड़ोस के ही पांच लोगों को नामजद किया गया है. पुलिस ने मामले की तहकीकात शुरू कर दी है. मृतक सुखदेव विश्वकर्मा की बेटी पुष्पम ने पुलिस को बताया कि बुधवार की देर शाम शादीपुर यादव टोला निवासी कैलाश यादव, मनिया यादव, बोकल यादव, अरविंद यादव उर्फ देवरिया उसके घर में घुस गये और उसके पिता के साथ मारपीट की, इसके बाद उन्हें धक्का दे दिया. इसमें पिता घायल हो गये. बुधवार की रात ही उन्हें मुंगेर सदर अस्पताल में भर्ती कराया. जहां पर इलाज के दौरान गुरुवार की सुबह उनकी मौत हो गयी. मौत की सूचना मिलते ही कोतवाली पुलिस सदर अस्पताल पहुंची और शव को अपने कब्जे में ले लिया. इसके बाद बेटी का फर्द बयान लेकर पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाया. फिर शव परिजनों को सौंप दिया.

मृतक की जमीन पर है भू-माफिया की नजर:

बताया जाता है कि मृतक सुखदेव विश्वकर्मा बंदूक फैक्टरी में काम करते थे. शहर के शादीपुर में उनकी चार कट्ठा जमीन है. कुछ में घर बना हुआ है और कुछ जमीन परती है. इस जमीन पर भू-माफियाओं की पहले से ही नजर है. क्योंकि मृतक सुखदेव विश्वकर्मा को तीन बेटी ही है. सभी की शादी हो चुकी है. बारी-बारी से उसकी तीनों बेटी पुष्पम, माया, दुर्गा और उनके पति सुखदेव विश्वकर्मा की देख-रेख के लिए उनके पास रहते थे. भू-माफिया उनलोगों को यहां से डरा-धमका कर सस्ते दर पर उस जमीन पर कब्जा जमाना चाहते हैं. लेकिन न तो वृद्ध इसके लिए तैयार थे और न ही उनकी बेटियां. माना जा रहा है कि भू-माफियाओं की मिलीभगत से ही इस घटना को अंजाम दिया गया है.

मृतक सुखदेव विश्वकर्मा भी जा चुके हैं जेल:

पांच-छह साल पूर्व भी मृतक सुखदेव विश्वकर्मा की जमीन पर कुछ लोगों ने कब्जा करने का प्रयास किया. उस समय सुखदेव विश्वकर्मा ने अपने लाइसेंसी बंदूक से फायरिंग कर दी थी. इसमें लड़ाई देख रहे सुबोध यादव की गोली लगने से मौत हो गयी थी. इस मामले में मृतक सुखदेव विश्वकर्मा जेल गये थे और काफी दिन जेल में भी रहे थे.

कहते हैं थानाध्यक्ष:

कोतवाली थानाध्यक्ष राजीव कुमार तिवारी ने बताया कि मृतक सुखदेव विश्वकर्मा की बेटी पुष्पम के बयान पर कोतवाली थाने में हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गयी है. इसमें चार लोगों को नामजद किया गया है. पुलिस नामजदों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें