26.5 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Munger News : मानसी के होटल में होती है डील, मुंगेर पहुंचता है स्मैक

पश्चिम बंगाल का स्मैक खगड़िया के रास्ते मुंगेर पहुंच रहा है. खगड़िया के मानसी स्थित होटल में डील होती है. श्रीकृष्ण सेतु धंधे का मुख्य मार्ग बना दिया गया है. इस बीच स्मैक के साथ विद्युत व रेलकर्मी की गिरफ्तारी ने मुश्किल दी. इस नेटवर्क को ध्वस्त करना चुनौती बनी है.

Munger News : मुंगेर. यूं तो मुंगेर में स्मैक का धंध तीन वर्ष से चल रहा है, लेकिन धीरे-धीरे इसके प्रति युवाओं की दीवानगी ने इसको पंख लगा दिया. हाल के दिनों में स्मैक के खिलाफ मुंगेर पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए आधे दर्जन युवाओं को खरीद-बिक्री के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज है. जब इस धंधे के तह तक जाने के लिए पुलिस ने पड़ताल शुरू की, तो पाया कि मुंगेर में बिकने वाला स्मैक पश्चिम बंगाल से लाया जाता है. बेगूसराय के ड्रग्स पैडलरखगड़िया के मानसी से लाकर इसकी आपूर्ति मुंगेर के पैडलर को करते हैं, लेकिन इस नेटवर्क को ध्वस्त करना पुलिस के लिए चुनौती बनी हुई है.

धंधे का सरगना बेगूसराय के साहेबपुर कमाल थाना क्षेत्र के मल्हीपुर का है निवासी

लगातार स्मैक की बरामदगी के बाद पुलिस ने इस मामले का अनुसंधान प्रारंभ किया, तो पता चला कि मुंगेर जो स्मैक पहुंच रहा है, वह नेपाल या अन्य जगहों का नहीं, बल्कि पश्चिम बंगाल का है. पुलिस सूत्रों की माने तो इस धंधे का सरगना बेगूसराय के साहेबपुर कमाल थाना क्षेत्र के मल्हीपुर का है. जो खुद नहीं बल्कि दूसरे के माध्यम से इसकी डीलिंग करता है. खगड़िया के मानसी में एक होटल को स्मैक डीलिंग का मुख्य अड्डा बनाया गया है, जहां पर मुंगेर के ड्रग्स पैडलरों को स्मैक की आपूर्ति की जाती है. जितना पैसा दिया जाता है उतने का ही स्मैक दिया जाता है. पुलिस को स्मैक के एक नेटवर्क का पता तो चल गया है, लेकिन उस नेटवर्क को ध्वस्त करना पुलिस के लिए चुनौती बनी हुई है, क्योंकि यह तीन जिलों की पुलिस से जुड़ा मामला बन जाता है.

लालदरवाजा से ऑपरेट हो रहा धंधा

अनुसंधान में यह भी पाया गया कि स्मैक के धंधे का मुख्य अड्डा मुंगेर में लालदरवाजाहै. इसमें दलहट्टा व चंडिका स्थान मुहल्ले के लोग शामिल हैं.लालदरवाजा से ही इस धंधे को ऑपरेट किया जा रहा है, क्योंकि अब तक जो भी गिरफ्तारी हुई है वह लालदरवाजा से हुई है. माना जा रहा है कि इस धंधे में लालदरवाजा के कई अन्य लोग भी शामिल हैं, जिसकी गिरफ्तारी अभी बांकीहै.

बरामदगी व गिरफ्तारी बता रहा स्मैक के धंधे का सच

मुंगेर पुलिस ने हाल के दिनों में छापेमारी कर मादक पदार्थ के धंधे का खुलासा किया है. एक-दो पुड़िया से शुरू हुई स्मैक की बरामदगी सीधे 14 पुड़िया तक पहुंच गयी.मुफस्सिल थाना पुलिस ने 2 मई को श्रीकृष्ण सेतु पर एक मोटरसाइकिल सवार को पकड़ा, जो खगड़िया जिले का रहने वाला था. उसके पास से पुलिस ने एक ग्राम स्मैक बरामद किया. पुन: 9 मई को कोतवाली थाना पुलिस ने श्रीकृष्ण सेतु के लालदरवाजा लिंक पथ पर तीन युवकों को सात पुड़िया स्मैक के साथ गिरफ्तार किया, जो खगड़िया से स्मैक लेकर मुंगेर आ रहा था. 15 मई को कोतवाली पुलिस ने दो पुड़िया स्मैक के साथ लालदरवाजा में दो युवकों को पकड़ा. हाल ही में 25 मई को कोतवाली थाना पुलिस ने तीन लोगों को 14 पुड़िया स्मैक और वेट मशीन व फॉल पेपर के साथ गिरफ्तार किया. लगातार हो रही बरामदगी और गिरफ्तारी बता रहा है कि स्मैक का धंधा व्यापक स्तर पर मुंगेर में फल-फूल रहा है.

सरकारी कर्मी की गिरफ्तारी ने बढ़ायी मुश्किल

25 मई को कोतवाली पुलिस ने तीन स्मैक के धंधेबाजों को गिरफ्तार किया था. इसमें शहर का लालदरवाजा निवासी गोविंदा कुमार मुंगेर विद्युत विभाग में कार्यरत है. जबकि मुफस्सिल थाना क्षेत्र के नौवागढ़ी निवासी शुभम कुमार रेल कारखाना का कर्मचारी बताया जाता है. इसने पुलिस की मुश्किल बढ़ा दी है. पुलिस को आशंका है कि ये लोग इन सरकारी संस्थानों में स्मैक की आपूर्ति कर युवा सरकारी कर्मी को स्मैक नशे में झोंक रहे हैं.

कहते हैं पुलिस अधीक्षक

स्मैक का बढ़ता धंधा चिंता का विषय है. पुलिस लगातार इसके खिलाफ कार्रवाई कर रही है. स्मैक के साथ धंधेबाज को पकड़ कर जेल भेज रही है.हालांकि लोगों को भी इसके खिलाफ जागरूक होना होगा. अभिभावकों को अपने बच्चों पर ध्यान देना होगा कि उनके बच्चे कहीं नशे के शिकार तो नहीं हो रहे हैं.
सैयद इमरान मसूद, पुलिस अधीक्षक, मुंगेर

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें