30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

कॉलेजों में छात्राओं से ली जा रही राशि, विश्वविद्यालय प्रशासन मौन

बीते दिनों भी कई कॉलेजों में सामने आये थे विद्यार्थियों से नियम के विपरीत राशि लिये जाने का मामला

बीते दिनों भी कई कॉलेजों में सामने आये थे विद्यार्थियों से नियम के विपरीत राशि लिये जाने का मामला, प्रतिनिधि, मुंगेर. मुंगेर विश्वविद्यालय द्वारा अपने अंगीभूत एवं संबद्ध कॉलेजों में विद्यार्थियों से नामांकन व अन्य शैक्षणिक प्रक्रियाओं के दौरान नियम के विरुद्ध अतिरिक्त राशि लिये जाने के मामले में मौन रवैया अब विद्यार्थियों की परेशानी को बढ़ाने लगा है. हाल यह है कि विश्वविद्यालय प्रशासन के मौन रवैये के कारण एमयू के कॉलेजों में सरकार के आदेश के विपरीत छात्राओं से भी राशि लिये जाने का मामला सामने आया है. बता दें कि एमयू द्वारा वर्तमान में कई सत्रों के लिये शैक्षणिक प्रक्रिया पूर्ण की गयी है, जबकि सत्र 2024-28 स्नातक सेमेस्टर-1 में नामांकन की प्रक्रिया पूर्ण की जा रही है. ऐसे में कुलाधिपति तथा सरकार द्वारा स्पष्ट निर्देश दिया गया है कि एससी-एसटी छात्र-छात्राओं तथा सभी वर्ग की छात्राओं से न तो नामांकन शुल्क लिया जाना है और न ही नामांकन के दौरान कॉलेजों द्वारा कोई अतिरिक्त शुल्क लिया जाना है. बावजूद एमयू के संबद्ध कॉलेज सरस्वती एकलव्य कॉलेज, जमुई में छात्राओं से नामांकन शुल्क के अतिरिक्त 1200 रुपये का शुल्क लिया जा रहा है. जिसमें कॉलेज द्वारा छात्राओं से डिर्पाटमेंट फीस के नाम पर 700 रुपये तथा मिसलेनियस शुल्क के रूप में 500 रुपये लिया जा रहा है. जबकि इससे पूर्व भी एमयू मुख्यालय सहित अन्य जिले के कई अंगीभूत एवं संबद्ध कॉलेजों में विद्यार्थियों से 700 से 1000 रुपये अतिरिक्त शुल्क लिये जाने का मामला सामने आया था. हद तो यह है कि राजभवन व सरकार के निर्देश को लेकर विश्वविद्यालय द्वारा पूर्व में ही अपने कॉलेजों को पत्र भेजकर इस संबद्ध में निर्देशित किया गया है, लेकिन इसके बावजूद एमयू के मौन रवैये के कारण विद्यार्थी कॉलेजों में आर्थिक दोहन का शिकार हो रहे हैं.

कहते हैं डीएसडब्लू

एमयू के डीएसडब्लू डॉ भवेशचंद्र पांडेय ने बताया कि सरस्वती एकलव्य कॉलेज, जमुई में छात्राओं से राशि लिये जाने के मामले की जानकारी मिली है. इस संबंध में जानकारी प्राप्त कर आवश्यक कार्रवाई की जायेगी.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें