26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

पूर्वी चंपारण में 54704 किसानों को नहीं मिल पायेगा पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ

कृषि व कल्याण विभाग भारत सरकार से मिली रिपोर्ट के अनुसार इ-केवाइसी व एनपीसीआइ न कराने वाले जिले के 54704 किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ अब नहीं मिल पाएगा.

मोतिहारी.कृषि व कल्याण विभाग भारत सरकार से मिली रिपोर्ट के अनुसार इ-केवाइसी व एनपीसीआइ न कराने वाले जिले के 54704 किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ अब नहीं मिल पाएगा. ऐसे किसानों को तत्काल वसुधा केन्द्र बैंक व सेल्फ मोबाइल से इ-केवाइसी तत्काल कराना होगा. तब उनके लंबित राशि का भी भुगतान हो पाएगा. उक्त आशय का पत्र 4 मई को कृषि व कल्याण विभाग भारत सरकार द्वारा पत्र जारी किया गया है. जिसमें पूर्वीचम्पारण के किसान भी लाभ से वंचित हो पाएंगे. विभाग से मिली जानकारी के अनुसार करीब 400 से अधिक वैसे किसान जो गलत ढंग से किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उठा रहे थे. वैसे किसान का खाता होल्ड कर राशि की रिकवरी की जा रही है. बता दें कि इस योजना के तहत साल में प्रति किसान छह हजार रुपये सालाना किसानों को मिलता है. यानि प्रति तिमाही 2000 हजार प्राप्त होता है.जिले में उक्त योजना के तहत 485674 किसान आवेदक है, जिसमें 452573 किसानों ने केवाइसी कराया है. वही 33101 किसान अब तक अपने खाते का केवाईसी अपडेट नहीं करा पाएं है. जिसके कारण उन्हे फिलवक्त इस योजना से वंचित रहना पड़ेगा. इस योजना के तहत कुल लाभुक किसानों की संख्या 483275 है. जिसमें 21601 किसानों ने एनपीसीआइ नहीं कराया है. ऐसे में इन्हें लाभ से वंचित होना पड़ेगा. इस प्रकार 461767 किसानों को इसका लाभ नहीं मिल पाएगा. डीएओ प्रवीण कुमार राय ने बताया कि जो किसान अब तक पीएम किसान सम्मान योजना के तहत लाभ पा रहे थे. केवाइसी व एनपीसीआइ अपडेट नहीं कराने के कारण 54704 किसान इस योजना से वंचित हो जाएंगे. ऐसे में किसान वसुधा केन्द्र, बैंक व अपने मोबाइल से इ-केवाइसी, एनपीसीआइ करा लेते है तो आने वाले दिनों में इसका लाभ उनको मिल जाएगा.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें