1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. madhubani
  5. kamala river above danger mark balan stable bagmati water level dropped asj

कमला नदी खतरे के निशान से ऊपर, भूतही बलान स्थिर, बागमती का जलस्तर गिरा

मधुबनी सहित नेपाली क्षेत्र में लगातार हो रहे बारिश से झंझारपुर में कमला नदी का जलस्तर मंगलवार को खतरे निशान से उपर पहुंच गया है. मंगलवार की देर शाम किये गये मापी के अनुसार जलस्तर खतरा निशान से 25 सेंटीमीटर ऊपर बह रही थी.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
नदी
नदी
प्रभात खबर

झंझारपुर/मुजफ्फरपुर. मधुबनी सहित नेपाली क्षेत्र में लगातार हो रहे बारिश से झंझारपुर में कमला नदी का जलस्तर मंगलवार को खतरे निशान से उपर पहुंच गया है. मंगलवार की देर शाम किये गये मापी के अनुसार जलस्तर खतरा निशान से 25 सेंटीमीटर ऊपर बह रही थी. हालांकि इस जल स्तर के बढ़ने से कहीं कोई खतरा और समस्या उत्पन्न होने की संभावना नहीं है. झंझारपुर में कमला नदी का खतरा का निशान 50 मीटर पर अंकित है. जो मंगलवार को 50.25 मीटर पर राइजिंग दिखा रहा है. जबकि भूतही बलान खतरे के निशान से बहुत नीचे है. उसका जलस्तर स्थिर बना हुआ है.

भूतही बलान में खतरा का निशान 69.50 मीटर

भूतही बलान में खतरा का निशान 69.50 मीटर है. फिलहाल मंगलवार का जलस्तर 68.59 पर स्थिर है. इस संबंध में झंझारपुर फ्लड कंट्रोल के कार्यपालक अभियंता जमील अख्तर ने बताया कि जयनगर में कमला नदी का जलस्तर का फॉलिंग हो रहा है. जबकि झंझारपुर में जलस्तर राइजिंग पर रहा है. शाम 5 के मापी मात्र 25 सेंटीमीटर ख़तरे के निशान से उपर है. लेकिन कहीं से कोई खतरा उत्पन्न नहीं होगा.

नदी के कटाव से बचाव के लिए बनी दीवार डेढ़ माह में ही ध्वस्त

गायघाट प्रखंड के भटगांवा मधुरपट्टी घाट पर मुख्यमंत्री ग्रामीण सड़क को बागमती नदी के कटाव से सुरक्षा के लिए बनी दीवार मात्र डेढ़ माह में ही ध्वस्त होकर नदी में समाहित हो गयी है. ग्रामीण कार्य विभाग ने सड़क की सुरक्षा के लिए भटगांवा मधुरपट्टी घाट पर नदी के किनारे सुरक्षा दीवार खड़ी की थी. इसे बने मात्र डेढ़ माह ही हुआ था. बागमती नदी में पहली बार बाढ़ का पानी आया और यह सुरक्षा नदी की भेंट चढ़ गयी.

मानक के अनुरूप उसकी गुणवत्ता नहीं

बलौर पंचायत के मुखिया पति देवेंद्र प्रसाद यादव, उसी पंचायत के भाजपा के मंडल अध्यक्ष बिकाउ यादव, उस वार्ड वार्ड सदस्य पुत्र कमलेश कुमार, ग्रामीण मो मुश्ताक ने बताया कि जब सड़क की सुरक्षा के लिए सुरक्षा दीवार बनायी जा रही थी. मानक के अनुरूप उसकी गुणवत्ता नहीं दी जा रही थी. ग्रामीणों की शिकायत पर मुखिया ने ग्रामीण कार्य विभाग के अभियंता को कार्यस्थल पर बुलाकर शिकायत भी की लेकिन विभागीय पदाधिकारी संवेदक से मिलकर ग्रामीणों की बात को अनसूना कर दिया.

दीवार धंस कर नदी में समाहित

पहली बारिश व बाढ़ के पानी में यह सुरक्षा दीवार धंस कर नदी में समाहित हो गयी. भटगांवा में नदी द्वारा फिर से मुख्यमंत्री ग्रामीण सड़क का कटाव जारी हो गया. पहली बारिश में ही सड़क व सुरक्षा दिवार के बीच बड़े बड़े गढ्ढे बन गए जिससे जलस्तर में वृद्धि की स्थिति में सड़क के कटने की संभावना काफी प्रबल हो गयी है.

बागमती नदी का कटाव जारी

बागमती नदी के जलस्तर में सोमवार की रात से कमी आयी है लेकिन मधुरपट्टी के चौपाल टोला व पुकार राय के घर के नजदीक कटाव जारी है. वहीं बलौर के सती स्थान के नजदीक हो रहे भीषण कटाव को रोकने के लिए जल संसाधन विभाग कटावरोधी कार्य कराया जा रहा है.

लोगों ने राहत की सांस ली

बागमती नदी के जलस्तर में कमी से जहां प्रखंड के पूर्वी क्षेत्र के लोगों ने राहत की सांस ली है. केवटसा पंचायत के मिश्रौली गांव के अनूसूचित जाति टोला की स्थिति नारकीय ही बनी हुई है. यह टोला निचला इलाका होने के कारण दर्जनों घर में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया था. निचला क्षेत्र होने से यहां से बाढ़ का पानी का निकलना संभव नहीं है.

Prabhat Khabar App: देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, क्रिकेट की ताजा खबरे पढे यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए प्रभात खबर ऐप.

FOLLOW US ON SOCIAL MEDIA
Facebook
Twitter
Instagram
YOUTUBE

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें