40.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

चुनावी वैतरणी पार करने की जुगत में सभी प्रत्याशी, स्थानीय मुद्दे गौण

वादों और दावों के बीच उलझी त्रिकोणीय लड़ाई में मतदाताओं की खामोशी से जिले की राजनीतिक तपिश लगातार बदल रही हैं.

रामबाबू, किशनगंज.वादों और दावों के बीच उलझी त्रिकोणीय लड़ाई में मतदाताओं की खामोशी से जिले की राजनीतिक तपिश लगातार बदल रही हैं.मतदाता इन दिनों चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों के लिए अबूझ पहेली बन गये हैं.शुक्रवार 26 अप्रैल को जिले में लोकसभा चुनाव के लिए वोटिंग होना है.चुनाव लड़ रहे सभी प्रत्याशियों के द्वारा अब जबकि पूरी ताकत झोंकी जा रही है.इस परिस्थिति में जागरूक मतदाताओं की चुप्पी साधे रहना बड़ा तूफान आने के पूर्व होने वाले सन्नाटे जैसी स्थिति बनाये हुई है.यह स्थिति ना सिर्फ उम्मीदवारों को एक बार झकझोर कर रख देता है.बल्कि इनके सधे हुए शब्दों के जाल में भी उलझ कर रह जाते हैं प्रत्याशी,वहीं मतदाताओं की ओर से किसी भी प्रकार का खुलासा नहीं किया जाना भी इस चढ़ते पारा वाले मौसम में उम्मीदवारों के पसीना छुड़ा रहा है.बहरहाल हर दहलीज पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए उम्मीदवार गृहस्वामी से आशा भरी नजरों से वोट की विनती करते नजर आते हैं.वहीं मतदाता मानो दूध का जला छाछ भी फूंक-फूंक कर पीना चाह रहा है.हालांकि लोकसभा चुनाव का रोमांच अभी बरकरार है.यह अलग बात है कि हर दिन बनते बिगड़ते समीकरण से कई दिग्गजों के रात की नींद और दिन का चैन गायब हो गया है.फिलहाल चुनाव के लिहाज से मतदाता बिल्कुल मौन है.जबकि पहले चरण के चुनाव में प्रचार की समाप्ति के बाद दूसरे चरण में किशनगंज में होने वाले चुनाव को लेकर प्रचार पूरी गति में है.अगले एक-दो दिनों में इसमें और तेजी की संभावना है.पार्टियों के बड़े- बड़े दिग्गज और स्टार प्रचारकों का आगमन भी यहां शुरू हो चुका है.कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिका अर्जुन खड़गे ने शुक्रवार को लोहागरा में प्रचार किया वहीं एनडीए नेताओं के आगमन का भी सिलसिला शुरू हो गया है.अगले पांच दिन में उम्मीदवारों के समर्थन में कई बड़े राजनीतिक हस्ती का जमावड़ा किशनगंज में लगेगा.जिसमें कांग्रेस,राजद,एआईएमआईएम के अलावे जदयू तथा भाजपा के कई नेताओं के आगमन की संभावना है.लोक सभा चुनाव को ले पौआखाली पुलिस व एसएसबी ने निकाला फ्लैग मार्च

फोटो 2 फ्लैग मार्च में शामिल पौआखाली पुलिस व एसएसबी जवान

प्रतिनिधि़, पौआखालीआगामी 26 अप्रैल को जिले में लोकसभा चुनाव का दूसरा चरण संपन्न होना है, जिसके लिए जिला प्रशासन शांतिपूर्ण तरीके से मतदान संपन्न कराने के लिए प्रतिबद्ध है. यही वजह है कि जिले के चप्पे चप्पे में पुलिस और पैरामिलिट्री फोर्स का संयुक्त फ्लैग मार्च अभियान जारी है. शनिवार को सीमावर्ती थाना जियापोखर के विभिन्न इलाकों में पुलिस और एसएसबी के द्वारा संयुक्त फ्लैग मार्च किया गया. थानाध्यक्ष बिकास कुमार के नेतृत्व में जियापोखर, कद्दूभिट्ठा, मिर्चान बस्ती, खोखो बस्ती, भट्ठाचौक, कोहीया सहित कुल 11बूथों के आसपास के गांव मुहल्लों में फलैग मार्च कर एरिया डॉमिनेशन का संदेश दिया गया. इस दौरान पुलिस और एसएसबी के द्वारा वाहनों की सघन तौर पर जांच पड़ताल की गई. फ्लैग मार्च से असामाजिक तत्वों में हड़कंप मच गया है. थानाध्यक्ष विकास कुमार ने इस बाबत बताया कि भारत नेपाल सीमा से सटा जियापोखर थाना क्षेत्र में शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव संपन्न कराना पुलिस प्रशासन की पहली प्राथमिकता है. मतदाताओं को डराने धमकाने अथवा किसी भी तरह से प्रलोभन आदि देने वाले चुनाव में गड़बड़ी फैलाने की मंशा पालने वाले तत्वों को चेतावनी देते हुए कहा है कि ऐसे तत्व पुलिस प्रशासन और पैरामिलिट्री फोर्स के रडार पर हैं. थानाध्यक्ष के मुताबिक एसएसबी से परस्पर तालमेल कर सीमा पार से आने -जाने वाले हर एक व्यक्ति सहित सभी प्रकार की गतिविधियों पर पैनी नजर रखी जा रही है. थानाध्यक्ष ने थाना क्षेत्र के मतदाताओं से अपील की है कि वे आगामी 26 तारीख को होने वाले चुनाव में अपने अपने मतदान केंद्रों पर पहुंचकर निर्भीक होकर बिना किसी के दवाब में आकर अपने मताधिकार का प्रयोग अवश्य करें.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें