1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. katihar
  5. foundation stone of narenpur purnia fourlane will be put online on pm modi 18 katihar bihar asj

पीएम मोदी 18 को ऑनलाइन रखेंगे नरेनपुर-पूर्णिया फोरलेन की आधारशिला

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
Social media

सूरज गुप्ता, कटिहार : जिले के मनिहारी अनुमंडल अंतर्गत नरेनपुर से पूर्णिया तक जाने वाली राष्ट्रीय उच्च पथ 131 ए फोरलेन सड़क का शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे. भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण प्रधानमंत्री की ओर से किए जाने वाले शिलान्यास कार्यक्रम की तैयारी में जुट गयी है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री की ओर से 11 सितंबर को इस महत्वकांक्षी मुख्य परियोजना का शिलान्यास किया जाना था. पर अब तिथि में थोड़ा संशोधन कर दिया गया है. प्रधानमंत्री अब 18 सितंबर को रिमोट के जरिए इस महत्वपूर्ण फोरलेन सड़क का आधारशिला रखेंगे.

1324.63 करोड़ से बननी है सड़क

एनएचएआई के सूत्रों की मानें तो जिले नरेनपुर से पूर्णिया तक प्रस्तावित इस फोरलेन सड़क का निर्माण करीब 1324.63 करोड़ की लागत से होगी. इसके लिए निविदा सहित अन्य प्रक्रिया लगभग पूरी की जा चुकी है. कटिहार एवं पूर्णिया जिले में भू अर्जन प्रक्रिया को भी अंतिम रूप दे दिया गया है. उल्लेखनीय है कि साहिबगंज से मनिहारी तक गंगा नदी पर भी पुल निर्माण की प्रक्रिया शुरू होने वाली है. इसको लेकर भी निविदा प्रक्रिया लगभग पूरी का की जा चुकी है. पुल निर्माण के साथ राष्ट्रीय उच्च पथ 131ए का लिंक होगा. माना जा रहा है कि इस फोरलेन सड़क एवं मनिहारी-साहेबगंज के बीच गंगा नदी पर पुल बन जाने से कटिहार सहित सीमांचल व कोसी के जिलों के लोगों को काफी सहूलियत होगी. कई तरह के फायदे भी होंगे.

बढ़ेगा व्यापारिक व सांस्कृतिक महत्व

जानकारों की मानें तो नरेन पुर से पूर्णिया तक बनने वाली यह सड़क राज्य की महत्वपूर्ण परियोजनाओं में शुमार है. यह सड़क बिहार-झारखण्ड के बीच मनिहारी-साहेबगंज में गंगा नदी पर पुल निर्माण के बाद राज्य के सीमांचल व कोसी क्षेत्र को झारखण्ड से जोड़ेगा. साथ ही कटिहार जिले में अमदाबाद के पास महानन्दा पर निर्मित पुल से होकर मालदा ( बंगाल) के साथ सुलभ संपर्क उपलब्ध हो सकेगा. इस पथ के निर्माण से सीमांचल व कोसी के विकास को एक नया आयाम मिलेगा एवं आधारभूत संरचना का विकास होगा. बताया जाता है कि सड़क निर्माण से सहरसा, सुपौल, मधेपुरा, अररिया, पूर्णिया, कटिहार के लोगों को साहेबगंज, पाकुड़ के अलावा पश्चिम बंगाल में फरक्का व आसपास के इलाके में आने-जाने में सहूलियत होगी. इस सड़क के बनने से लगभग सौ किलोमीटर दूरी कम सफर करना पड़ेगा. अभी सहरसा, सुपौल, मधेपुरा, अररिया, पूर्णिया, कटिहार के लोगों को नौगछिया, भागलपुर होते हुए साहेबगंज जाना पड़ता है.

47.04 किलोमीटर लंबी होगी फोरलेन सड़क

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के सूत्रों के अनुसार कटिहार के नरेनपुर से पूर्णिया तक बनने वाली यह फोरलेन सड़क की लंबाई 47.04 किलोमीटर होगी. जानकारी के मुताबिक 4704 किलोमीटर में से 4357 किलोमीटर तक फोरलेन होगा. जबकि शेष भाग टू लेन बनेगा. इस परियोजना में 14.80 किलोमीटर तक कटिहार बाइपास रोड सहित तीन आरओबी बनेगा. प्रस्तावित परियोजना के लिए भू-अर्जन का कार्य लगभग पूरा कर लिया गया है और पथ निर्माण के लिए बाधारहित कार्यक्षेत्र उपलब्ध है. बताया जाता है कि निर्माण के बाद पांच वर्षों तक पथ संधारण का कार्य निर्माण के लिए चयनित कम्पनी द्वारा ही किया जायेगा.

कहते हैं परियोजना निदेशक

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के परियोजना क्रियान्वयन इकाई पूर्णिया के परियोजना निदेशक अरविंद कुमार ने इस संदर्भ में बताया कि नरेनपुर से पूर्णिया तक बनने वाली फोरलेन सड़क निर्माण की प्रक्रिया पूरी की जा चुकी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 सितंबर को इस महत्वपूर्ण सड़क का शिलान्यास करने वाले थे. पर तिथियों में कुछ संशोधन किया गया है. अब यह शिलान्यास 18 सितंबर को होगा. इसको लेकर लगभग सारी तैयारियां पूरी कर ली गयी है.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें