1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. gaya
  5. bodh gaya prostitution racket latest news as police arrested a so called journalist news skt

Bihar: देह व्यापार में लिप्त फर्जी पत्रकार ने कहा- स्टिंग कर रहा था, पुलिस ने कहा- इसके बॉस को भी दबोचो

गया में पुलिस ने देह व्यापार के एक बड़े रैकेट का खुलासा किया है. पुलिस ने इस दौरान एक फर्जी पत्रकार को भी पकड़ा है. पकड़े जाने पर कथित पत्रकार ने स्टिंग करने का दावा किया लेकिन पुलिस अब उसके बॉस को भी ढूंढ रही है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
देह व्यापार में पकड़ाए आरोपित व गया पुलिस
देह व्यापार में पकड़ाए आरोपित व गया पुलिस
प्रभात खबर

गया पुलिस ने बोधगया में लंबे समय से चल रहे अनैतिक देह व्यापार (सेक्स रैकेट) का खुलासा किया है. इसमें डॉक्टर, नेता, फर्जी पत्रकार व सोशल एक्टिविस्ट सहित जिले के 1000 से अधिक लोगों का नाम सामने आया है. इस रैकेट में पुलिस ने एक फर्जी पत्रकार को भी दबोचा है. पुलिस ने जब कथित पत्रकार को दबोचा तो उसने दलील भी देनी शुरू कर दी. पुलिस को बताया कि वो स्टिंग करने आया था. लेकिन थोड़ी ही देर में पुलिस ने उसे हकीकत का सामना भी करा दिया.

फर्जी पत्रकार व सोशल एक्टिविस्ट सहित 13 गिरफ्तार

बोधगया डीएसपी अजय कुमार की टीम ने अनैतिक देह व्यापार में संलिप्त एक फर्जी पत्रकार व सोशल एक्टिविस्ट सहित 13 लोगों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से 16 स्मार्ट फोन व कोलकाता के सोनागाछी की रहनेवाली दो युवतियों को बरामद किया गया है. एसएसपी आदित्य कुमार व सिटी एसपी राकेश कुमार ने अपने कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में इसकी जानकारी दी.

फर्जी पत्रकार को पुलिस ने दबोचा तो देने लगा दलील

एसएसपी ने बताया कि गिरफ्तार युवकों में फर्जी पोर्टल पत्रकार गया जिले के बोधगया थाने के भागलपुर गांव के रहनवाले संजय सिंह का बेटा शुभम कुमार भी है. पुलिस की पकड़ में आये सुशासन का सच नामक फर्जी पोर्टल के पत्रकार शुभम कुमार ने प्रेसवार्ता के दौरान एसएसपी व सिटी एसपी के सामने बताया कि सुशासन का सच पोर्टल के उनके सीनियर बॉस सुधांशु हैं, जो गया स्टेशन के आसपास रहते हैं.

अपने बॉस को बताया रैकेट का हिस्सा, लेकिन...

पकडाए गये फर्जी पत्रकार ने बताया कि उसे सूचना मिली थी कि उसके सीनियर बॉस सुधांशु बोधगया के एक होटल में सेक्स रैकेट चलाते हैं. इसी सूचना पर वह होटल में अपने परिचित सोशल एक्टिविस्ट कृष्णा कुमार पांडेय के साथ वहां गया था. वहां का माजरा देख वह पुलिस को फोन करनेवाला था कि बोधगया की पुलिस वहां छापेमारी कर दी.

एसएसपी ने फोन चेक किया तो हकीकत आयी सामने

फर्जी पत्रकार शुभम कुमार व सोशल एक्टिविस्ट कृष्णा कुमार पांडेय के बयान पर खंडन करते हुए एसएसपी ने कहा कि अगर आप दोनों वहां स्टिंग ऑपरेशन करने गये थे, तो आप दोनों के मोबाइल फोन में कोलकाता के सोनागाछी की रहनेवाली उन्हीं युवतियों का अश्लील फोटो कैसे है, जो सेक्स रैकेट के सरगना मुकेश उर्फ सुरेश ठाकुर के मोबाइल फोन में है.

प्रेसवार्ता के दौरान ही एसएसपी ने सामने रख दी हकीकत

प्रेसवार्ता के दौरान ही एसएसपी ने इनके मोबाइल फोन के व्हाट्सएप में मौजूद युवतियों का फोटो मीडिया के सामने पेश किया. एसएसपी ने सिटी एसपी व बोधगया डीएसपी को आदेश दिया कि फर्जी पोर्टल चलाने वाले सुधांशु की पहचान कर उसे गिरफ्तार करें.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें