जलजमाव से त्रस्त गांधीनगर के लोगों ने किया सड़क जाम

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

दोनार-बेनीपुर मुख्य पथ को महावीर मंदिर के निकट जाम कर किया प्रदर्शन

अनुमंडलाधिकारी व एसडीपीओ के समक्ष उप नगर आयुक्त व सिटी मैनेजर के लिखित आश्वासन के बाद शांत हुए लोग
दरभंगा : विगत कई माह से जलजमाव से त्रस्त गांधीनगर मोहल्ला के निवासियों का गुस्सा शुक्रवार को फूट पड़ा. आक्रोशित लोग सड़क पर उतर गये. दोनार-बेनीपुर मुख्य पथ को महावीर मंदिर के निकट जाम करते हुए सड़क पर धरना पर बैठ गये. धरनास्थल पर टायर जलाकर अपना विरोध प्रदर्शन करने लगे. नगर निगम प्रशासन के साथ ही जनप्रतिनिधियों के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की गयी.
सांसद, नगर विधायक से लेकर महापौर तक के खिलाफ लोगों में आक्रोश था. प्रदर्शनकारी जलनिकासी की स्थायी निदान व जल्द से जल्द दोनार-टिनही पुल तक नाला निर्माण की मांग कर रहे थे. जाम के कारण गांधीनगर कटरहिया मोड़ से पूर्व दिशा में गाड़ियों की लंबी कतार लग गयी. लगभग छह घंटे तक सड़क जाम रहा. प्रदर्शनकारियों ने वार्ता के लिए पहुंचे सदर थानाध्यक्ष व सीओ को वापस लौटा दिया.
सभी जिलाधिकारी को बुलाने की मांग कर रहे थे. सूचना पर सदर अनुमंडलाधिकारी डॉ राकेश गुप्ता व एसडीपीओ अनोज कुमार वार्ता के लिए वहां पहुंचे. दोनों अधिकारियों के समझाने के बाद भी प्रदर्शनकारी मानने के लिए तैयार नहीं थे. दोनों अधिकारियों के समक्ष उप नगर आयुक्त कमलनाथ व सिटी मैनेजर नागमणि सिंह के 48 घंटे के अंदर निदान के लिखित आश्वासन के बाद प्रदर्शनकारी शांत हुए.
इसके बाद जाम हटाया गया और आवागमन सुचारू हो सका. आंदोलनकारियों का कहना था कि विगत कई माह से मोहल्लें की मुख्य सड़क से लेकर गलियों में जलजमाव की वजह से लोग नारकीय जीवन जीने के लिए विवश है. घर से निकलना मुश्किल है. मुख्य सड़क पर जमा पानी से दुर्गंध उठने लगा है. महामारी की आशंका प्रबल हो गई है. सांस लेना भी मुश्किल हो गया है.
आश्वासन के बाद निदान नहीं होने से बढ़ता गया आक्रोश : 20 जनवरी मोहल्लावासियों ने नगर निगम का घेराव कर उग्र प्रदर्शन किया था. निगम प्रशासन की ओर से एक सप्ताह के अंदर निदान का आश्वासन दिया गया. आश्वासन का समय बीत जाने के बाद समस्या यथावत रहने पर 10 फरवरी को नगर निगम सहित जिला प्रशासन को आवेदन दिया गया था. निदान के लिए 72 घंटे का अल्टीमेटम देते हुए समाधान नहीं होने पर दरभंगा- बेनीपुर सड़क को स्थायी निदान होने तक जाम करने का एलान किया गया था.
अस्थायी निदान में जुटा निगम प्रशासन : निगम प्रशासन जलजमाव से निजात दिलाने के अस्थायी निदान की दिशा में जुट गया है. जलनिकासी के लिए मोहल्ला में जेसीबी से एक-दो जगह पर अस्थायी नाला बनाया जा रहा है.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें