1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. buxar
  5. buxar police caught five atm hackers of nawada and gaya know how the police got suspicious skt

बक्सर पुलिस के हत्थे चढ़े गया और नवादा के पांच एटीएम हैकर, जानें पुलिस को कैसे हुआ संदेह

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
social media

बक्सर पुलिस ने एटीएम कार्ड के जरिये जालसाजी कर लोगों के बैंक खातों से पैसे उड़ाने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को धर दबोचा. हालांकि इस गिरोह का मुख्य सरगना पुलिस की पहुंच से बाहर हैं.पकड़े गये सारे युवक गया और नवादा जिले के रहने वाले हैं और इस मामले में एक-दो बार पहले भी जेल जा चुके हैं. इन सबों के पास से दो दर्जन से ज्यादा एटीएम कार्ड और काफी मात्रा में शराब भी बरामद हुई है. पुलिस ने इनकी स्कॉर्पियो को भी जब्त कर ली है.

रविवार को आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार सिंह ने बताया कि बीते शनिवार को दिन में सूचना मिली कि शहर के अंबेडकर चौक के पास स्थित एसबीआइ के एटीएम के पास एक हल्की हरे रंग की स्कॉर्पियो खड़ी है. जिसमें कुछ युवक हैं, जिनकी हरकत संदिग्ध लग रही है. ये युवक बार-बार एटीएम में घुस रहे थे और निकल रहे थे. सूचना मिलने के बाद जब पुलिस मौके पर पहुंची तो एटीएम के अंदर से दो युवक और स्कॉर्पियो के अंदर से तीन युवक बाहर निकल भागने का प्रयास करने लगे. पुलिस के जवानों ने खदेड़कर पांचों को पकड़ा.

पुलिस ने जब पकड़े गये युवकों और स्कॉर्पियो की तलाशी की तो 27 एटीएम कार्ड, एक रेड इलेक्ट्रॉनिक डिवायस, चार एंड्रायड मोबाइल, दो किपैड मोबाइल, आइबॉल कंपनी का एक लैपटॉप, अंग्रेजी शराब 8 पीएम की बीस बोतलें और बीस बाम्बे स्पेशल व्हिस्की बरामद हुई. पकड़े गये युवकों ने अपना नाम रजनीश कुमार (23वर्ष), अविनाश कुमार (24वर्ष), राहुल कुमार सिंह (26वर्ष), आलोक रंजन (19वर्ष) और राहुल कुमार (24वर्ष) बताया. रजनीश, आलोक रंजन और राहुल कुमार गया जिले के फतेहपुर थाने के बड़गांव के रहने वाले हैं. वहीं अविनाश कुमार नवादा जिले के पकड़ीबरावां थाने के असमां गांव का निवासी है और राहुल कुमार सिंह नवादा के ही हिसुआ थाने के पचरा गांव का रहने वाला है.

पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार सिंह ने बताया कि ये सभी एटीएम बदलकर लोगों के खाते से पैसे निकाल लेते थे. इन सबों का एक संगठित गिरोह है, जिसका सरगना फरार है. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इन सबों के पास हैकिंग मशीन है. जिसके सहारे ये कार्ड बदलने के बाद किसी का एटीएम हैक कर लेते हैं. यही नहीं पकड़े गये सभी युवक इस मामले में एक-दो बार जेल की यात्रा भी कर चुके हैं. पुलिस अधीक्षक ने कहा कि फिलहाल इस गिरोह के सरगना की तलाश की जा रही है. बहुत जल्द वह भी पकड़ में आ जायेगा.

पांचों एटीएम हैकरों को पकड़ने में सदर एसडीपीओ गोरख राम के साथ टाउन सर्किल के इंस्पेक्टर मुकेश कुमार, टाउन थानाध्यक्ष रंजीत कुमार, एससी-एसटी थाने के एसआइ संजीव कुमार, डीआइयू के एसआइ राजेश मालाकार, टाउन थाने के एसआइ सुनील निर्झर, एसआइ ज्ञानप्रकाश, एसआइ रजनीश कुमार रंजन और एसआइ प्रह्लाद पाठक शामिल रहे.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें