27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

अधूरे सीवरेज व नाला निर्माण क्षेत्र बढ़ीं दुर्घटनाएं

शहर में बारिश शुरू होते ही फिसलन और कीचड़मय से लोग त्रहिमा करने लगे हैं. खासकर सीवरेज व नाला के अधूरे निर्माण वाले क्षेत्रों में वाहन दुर्घटनाएं बढ़ गयी है.

बिहारशरीफ. शहर में बारिश शुरू होते ही फिसलन और कीचड़मय से लोग त्रहिमा करने लगे हैं. खासकर सीवरेज व नाला के अधूरे निर्माण वाले क्षेत्रों में वाहन दुर्घटनाएं बढ़ गयी है. सिर्फ मछली मंडी से वी-टू के बीच बीते मंगलवार से बुधवार तक सात वाहन दुघर्टनाएं हो चुकी हैं. इसमें दो बाइक, लोहा के छड़ लदा एक झरझरियां और सात यात्री भरा टोटो शाामिल है. निर्माण वाले क्षेत्रों में जहां-तहां गढडे और सड़क के दोनों ओर कीचड़ जमी है. कहीं-कहीं तो गढडा खुला हुआ है, जो पानी से भरकर खतरनाक व जानलेवा बन गया है. इसके अतिरिक्त अधिकांश शहर में नाला व सीवरेज का निर्माण अधूरा है. पूर्व से बने अधिकांश नाला को नष्ट कर नये ढंग से निर्माण काम कुछ दिन पूर्व ही शुरू किया गया है. फिलहाल सबसे अधिक मछली मंडी से लेकर वी-टू तक फिसलकर गिर वाहन चालक से लेकर पैदल चलने वाले जख्मी हो रहे हैं. फोन एक्सचेंज से वंदना सिनेमा जाने वाले मार्ग तथा शिवपुरी में जीवन ज्योति अस्पताल से वी-टू मॉल तक जोड़ने वाले ढलाई मार्ग पर पांच से सात इंच कीचड़ जम गया है, जिससे वाहन चालक गिर रहे हैं. इन मार्गों में पैदल चलना भी लोगों को मुश्किल हो रहा है. सबसे अधिक मुख्य सड़क से जोड़ने वाले लिंक रास्ते में परेशानी शहर में सबसे अधिक मुख्य मार्ग से मोहल्ले व कॉलोनी को जोड़ने वाले रास्ते में पानी निकासी व कीचड़ की परेशानी है. जैसे वंदना सिनेमा से फोनएक्सचेंज मुख्य मार्ग में ढलाई हो गयी है, जो दो से तीन फुट ऊंचा हो गया है. इस कारण इस मार्ग के पश्चिमी मोहल्ला कमरूद्दीनगंज और पुरबी छोर धनेश्वर घाट जाने वाले रास्ते में जहां-तहां एक से दो फुट पानी जम गया है. इसी प्रकार मिंतू बस स्टैंड के बगल में नालंदा कॉलोनी होते विद्याभारती पब्लिक स्कूल तक जहां-तहां नाला निर्माण कार्य हो रहा है, जिससे यह मार्ग दो से तीन फुट ऊंचा हो गया है. वहीं इस मार्ग से अन्य कॉलोनी को जोड़ने वाले उत्तरी गांधी नगर, न्यू पटेल नगर, बब्लू किराना स्टाेर व कर्मचारी जी के मकान से प्रोफेसर साहब के घर तक का मार्ग में किचड़ व पानी जमाव हो रहा है. इसी प्रकार बाजार समिति के पीछे वाले अधिकांश मोहल्ले में जलजमाव की स्थिति पैदा हो रही है. रामचंद्रपुर बस स्टैंड के पीछे, मंगलास्थान, देवीस्थान आदि क्षेत्रों में पुराने नाले को नवनिर्मित नाले के चैंनल से कहीं-कहीं नहीं जोड़ा गया है, जिसके कारण भी हल्की बारिश में लोग पानी निकासी को लेकर परेशानी झेलने पर मजबूर हो रहे हैं. हंडर क्षेत्र समाप्त होने से बढ़ी परेशानी शहर के बगल से फोरलेन का निर्माण हुआ है, जिसमें हंडर क्षेत्र समाप्त हो गया है. इसके अतिरिक्त रहा-सहा कसर स्मार्ट सिटी से निर्माण नाला व सीवरेज ने पूरा कर रहा है. पंचाने नदी से देवीसराय तक स्मार्ट सिटी परियोजना से नया नाला का निर्माण हो रहा है, जो शहर के पश्चिमी क्षेत्र और फोनलेन के बगल -बगल से निकल रहा है. यह डॉ अमरदीप नारायण तक बन भी गया है. लोगों का कहना है कि वर्षों पहले बने बिहारशरीफ-पटना सड़क किनारे पानी निकास के लिए बनाये गये हंडर क्षेत्र में फोनलेन व नाला का निर्माण हो रहा है. इससे हंडर क्षेत्र समाप्त हो गया है और हल्की बारिश होने पर आस-पास के दुकान, मकान व सड़कों पर पानी और कीचड़ फैल जाता है. 10 से 80 हॉसपावर के आधा दर्जन मोटर से निकाला जा रहा पानी शहर में करीब सात जगहों पर नाला का पानी निकालने के लिए 10 से 80 हॉसपावर के मोटर लगाये गये हैंं. कहीं टूटे नाले तो कहीं सीवरेज निर्माण के कारण अवरूद्ध पानी को मोटर लगाकर दूसरे छोर के नाला में गिराया जा रहा है. तीन नगर निगम की ओर से और सात स्मार्ट सिटी परियोजना की ओर से बड़े-बड़े मोटर लगाकर पानी निकाला जा रहा है. बाजार समिति के पीछे 21 नंबर में, पंचाने नदी से देवीसराय के बीच में डॉ. अमरदीप नारायण के पास दस-दस हॉसपावर के दो मोटर, बाजार समिति के पीछे वार्ड नंबर 20 में एक 25 हॉसपावर के मोटर और गुरुवार को वार्ड 23 के गगनदीवान में 20 हॉसपावर के मोटर लगाये जाएंगे. इसके 20 से 80 हॉसपावर के सात मोटर पंप स्मार्ट सिटी परियोजना से संचालित हो रहे हैं, जो जरूरत के अनुसार इधर-उधर किये जाते हैं. वर्तमान में धर्मशाला के पास चार मोटर पंप और बासो साव चाय दुकान के पास दो मोटर 80-80 हॉसपावर तक लगाकर नाला का पानी निकाला जा रहा है. मोटर पंप चलाने के लिए बड़े-बड़े जनरेटर के प्रयोग किये जा रहे हैं. क्या कहते हैं अधिकारी- शहर में बारिश थमने के एक से दो घंटे के अंदर मुख्य सड़क व नाला से पानी का निकास हो रहा है. कुछ चिन्हित बाजार समिति के पीछे, बासो साह चाय दुकान, गगन दीवान जैसे अवरूद्ध नाले वाले क्षेत्रों से बड़े-बड़े मोटर पंप से पानी निकाला जाता है. इसके लिए विशेष कर्मी की टीम बनायी गयी हैं, जो जहां-जहां से सूचना आती है, वहां-वहां मशीन के साथ पहुंच कर पानी व सफाई कार्य में जुट जाते हैं. मछली मंडी से वी-टू और फोन एक्सचेंज से वंदना सिनेमा वाले मार्ग में कीचड़ की सफाई के लिए नगर आयुक्त ने निर्देश दिये हैं, जिसपर काम शुरू कर दिया गया है. -विनय रंजन, सिटी मैनेजर, नगर निगम बिहारशरीफ

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें