27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

दलाई लामा के जन्म दिवस पर संगोष्ठी का आयोजन

भारत तिब्बत मैत्री संघ, भागलपुर की ओर से शनिवार को गांधी शांति प्रतिष्ठान केंद्र सभागार में बौद्ध धर्मगुरु दलाई लामा का 89वां जन्मदिन मनाया गया.

भारत तिब्बत मैत्री संघ, भागलपुर की ओर से शनिवार को गांधी शांति प्रतिष्ठान केंद्र सभागार में बौद्ध धर्मगुरु दलाई लामा का 89वां जन्मदिन मनाया गया. तिब्बत और भारत की सुरक्षा विषयक संगोष्ठी हुई. अध्यक्षता उमा घोष ने की. मुख्य अतिथि जेपी विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ फारूक अली व विशिष्ट अतिथि गांधी शांति प्रतिष्ठान केंद्र के अध्यक्ष प्रकाश चंद्र गुप्ता एवं पारस कुंज थे. डॉ फारूक अली ने कहा कि तिब्बत के धर्मगुरु और राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में तिब्बत की आजादी के लिए अहिंसक आंदोलन चला रहे हैं. संस्कृति की रक्षा के लिए आंदोलन को मजबूत करने की आवश्यकता है. हम तिब्बत की आजादी का समर्थन करते हैं. प्रकाश चंद्र गुप्ता ने कहा कि भागलपुर इकाई लंबे समय से तिब्बत के बुनियादी सवालों को लेकर संस्कृति की रक्षा के हिमायती के रूप में संघर्ष कर रहा है. संजय कुमार ने कहा कि सामरिक दृष्टि से और सुरक्षा की दृष्टि से तिब्बत की आजादी भारत के हितों में है. इस मौके पर शारदा श्रीवास्तव, भारती दास, तृथा कर्मकार, अंजलि दास, पूनम श्रीवास्तव, आरोही घोष, अवंतिका घोष, अजय कुमार दास, धनंजय कुमार दत्ता आदि उपस्थित थे. धन्यवाद ज्ञापन कुमार संतोष ने किया.

स्वाभिमान ने मनाया जन्मदिन

स्वाभिमान की ओर से मंदरोजा शिक्षण संस्थान में धर्मगुरु दलाई लामा का 89वां जन्मदिन मनाया गया. कार्यक्रम की अध्यक्षता जगतराम साह कर्णपुरी ने की. रंजन कुमार राय ने कहा कि दलाई लामा अपने मुक्त हंसी के लिए दुनियाभर में विख्यात है. उनका असली नाम तेनजिन ग्यात्सो है. इस मौके पर डॉ संतोष कुमार ठाकुर, प्रेम कुमार सिंह, नवल, शिवम कुमार और अजय शंकर उपस्थित थे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें