1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. jee advanced 2020 result bihar son of electrician passed jee exam after preparing in bhagalpur 29 students succeed in district skt

JEE Advanced 2020 Result: भागलपुर में तैयारी कर इलेक्ट्रिशियन का बेटा बना आइआइटियन, जिले के 29 छात्र हुए सफल

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
 भीखनपुर निवासी अंकित कुमार
भीखनपुर निवासी अंकित कुमार
Prabhat Khabar

भागलपुर, देशभर के 23 इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (आइआइटी) में एडमिशन के लिए आइआइटी जेइइ एडवांस परीक्षा 2020 का रिजल्ट (JEE Advanced 2020 Result) सोमवार को जारी कर दिया है. अब तक मिली सूचना के अनुसार भीखनपुर निवासी अंकित कुमार को जिलेभर में सबसे बेहतर 344वां रैंक मिला है.

भागलपुर में रहकर की तैयारी, आइटी एक्सपर्ट बनना चाहते हैं अंकित

प्रभात खबर से बातचीत के दौरान अंकित ने बताया कि वह कंप्यूटर साइंस ब्रांच में एडमिशन लेकर आइटी एक्सपर्ट बनना चाहते हैं. उनका एडमिशन आइआइटी खड़गपुर, कानपुर व पटना जैसे प्रतिष्ठित आइआइटी में हो सकता है. अंकित के माता पिता ने बताया कि कोटा व अन्य शहर की बजाय भागलपुर में रहकर जेइइ एडवांस जैसी कठिन परीक्षा की तैयारी की. आर्थिक परेशानी के कारण वह बाहर जाकर पढ़ाई नहीं कर पाये. हालांकि इसका उनके रिजल्ट पर कोई असर नहीं पड़ा.

इलेक्ट्रॉनिक्स सामान की दुकान चलाते हैं अंकित के पिता 

अंकित ने ऑल इंडिया टॉप 100 रैंक में जगह बनाने का लक्ष्य रखा था. लेकिन लॉकडाउन के दौरान आने वाली कई परेशानियों के कारण वह और बेहतर तैयारी नहीं कर पाया. अंकित के पिता बृज बिहारी शर्मा भीखनपुर में अपना इलेक्ट्रॉनिक्स सामान की दुकान चलाते हैं. वहीं अंकित की मां रेखा देवी गृहिणी हैं. पिता ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान उनके कारोबार को काफी नुकसान पहुंचा. बावजूद उन्होंने अंकित की पढ़ाई में कोई कमी नहीं आने दिया. अंकित ने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता पिता व गुरुजनों को दिया.

जिले में 29 छात्र हुए जेइइ एडवांस में सफल

अबतक मिली जानकारी के अनुसार आइआइटी जेइइ एडवांस परीक्षा 2020 परीक्षा में इस बार 29 छात्र सफल हुए. सभी छात्रों ने भागलपुर के स्कूलों व कोचिंग सेंटरों में पढ़ाई की. कोरोना काल में छात्रों को कक्षा की सुविधा नहीं मिलने के बावजूद इन्होंने अपने दम पर यह इतिहास रचा. ऐसे में इंजीनियरिंग में कॅरियर बनाने का सपना देख रहे युवाओं के लिए यह खुशखबरी जैसा है, कि उन्हें अब कोटा, दिल्ली, मुंबई जैसे शहरों में जाकर तैयारी नहीं करनी होगी.

Posted by : Thakur Shaktilochan Shandilya

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें