24.7 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

नगर निगम में 56.96 करोड़ की लागत से अगले माह से शुरू होगी स्टॉर्म वॉटर ड्रेनेज सिस्टम : गरिमा

नगर निगम की महापौर गरिमा देवी सिकारिया ने का कि नगर निगम के सघन शहरी क्षेत्र में अगले माह से 56.96 करोड़ लागत वाला स्लैब सहित स्टॉर्म वाटर ड्रेनेज सिस्टम नाला के निर्माण कार्य की शुरुआत होगी.

बेतिया. नगर निगम की महापौर गरिमा देवी सिकारिया ने का कि नगर निगम के सघन शहरी क्षेत्र में अगले माह से 56.96 करोड़ लागत वाला स्लैब सहित स्टॉर्म वाटर ड्रेनेज सिस्टम नाला के निर्माण कार्य की शुरुआत होगी. इस प्रणाली का अर्थ तूफानी गति से जल निकासी प्रणाली को प्रभावी बनाना होता है. ताकि बरसात के मौसम में जल जमाव का सबब बनने वाला जमा हुआ जल तूफानी गति से निकल जाना सुनिश्चित हो सके. महापौर ने यह भी बताया कि आत्मनिर्भर बिहार के सात निश्चय 2 के अंतर्गत नगर निगम के पूरे सघन शहरी क्षेत्र का पानी संबंधित मुख्य नाले तक पहुंचाने के लिए डिज़ाइन किया गया है. महापौर गरिमा देवी सिकारिया ने बताया कि नगर विकास एवं आवास विभाग से स्वीकृत एवं फलित होने जा रहा यह नया जल निकासी सिस्टम बीते करीब साढ़े तीन साल के उनके अथक प्रयास के बाद अब फलीभूत रूप में है. जिसके तहत नगर निगम क्षेत्र के सघन शहरी क्षेत्र के लिए 56.96 करोड़ लागत वाला नया स्टॉर्म वॉटर ड्रेनेज सिस्टम संभव हुआ है. महापौर श्रीमती सिकारिया ने बताया कि बुडको अर्थात बिहार अर्बन इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन से इसकी निविदा प्रक्रिया विगत 12 फरवरी को ही पूरी की जा चुकी है. इसके लिए दिल्ली के प्रीतमपुरा की कंपनी मेसर्स सीके इंफ्रा लिमिटेड और मेसर्स बिल्डनेट इंगर्स को कार्यादेश भी जारी करते हुए बुडको ने अपनी टीम भी तैनात कर दी है. महापौर ने यह भी बताया कि इस कार्य के लिए बुडको से तैनात सहायक परियोजना निदेशक ई. विश्वजीत कुमार और अभियंता ई. जितेंद्र कुमार आदि के साथ उनकी मीटिंग भी हो चुकी है. लेकिन लोक सभा चुनाव की आचार संहिता के कारण इसकी शुरुआत में कुछ विलंब हुआ है. महापौर श्रीमती सिकारिया ने बताया कि इससे पूर्व बेतिया सहित कुल 9 नगर निगमों के लिए ऐसी ही योजनाओं को स्वीकृति मिली है. महापौर ने बताया कि पूर्ववर्ती नगर परिषद के सभापति वाले कार्यकाल में सघन क्षेत्र में आबादी के अनुसार नई जल निकासी व्यवस्था के लिए स्ट्रॉम वाटर ड्रेनेज सिस्टम निर्माण का प्रस्ताव भेजा था. जिसके पेंडिंग रह जाने के कारण अपने वर्त्तमान कार्यकाल स्वीकृति दिलवाने के लिए मैं बीते सितंबर माह में विभाग के अपर मुख्य सचिव से मिलकर इसकी अंतिम स्वीकृति दिलाने का अनुरोध की थी. जिसके फल स्वरूप बिहार मंत्री परिषद से इसकी स्वीकृति मिली. इसी आधार पर अब 56.96 करोड़ लागत वाली कुल 9 योजनाओं की निविदा विभागीय स्वीकृत के आधार पर बुडको के माध्यम से पूरी किए जाने की शुरुआत अगले माह से हो जाने की पूरी तैयारी है. शहर की पौने दो लाख की आबादी होगी लाभान्वित, 7 किमी तक बनेगा अंडर ग्राउंड नाला महापौर ने बताया कि इस योजना को पूरी करने की समय सीमा 24 माह अर्थात दो साल निर्धारित की गई है. जिसके अनुसार कुल 9 खंड में बंटे नए और विस्तृत सिवरेज सिस्टम से सुगम जल निकासी का लाभ से सघन शहरी क्षेत्र के करीब पौने दो लाख की आबादी को मिलने लगेगा. जिससे व्यवस्थित और सुचारू जल निकासी व्यवस्था सुनिश्चित हो जायेगी. श्रीमती सिकारिया ने बताया कि स्वीकृत योजना के तहत नगर थाना से अनरी चुनरी आउट फॉल तक करीब 7 किलो मीटर तक का अंडर ग्राउंड नाला निर्माण के साथ आठ और योजनाएं शामिल हैं. जिसमें नगर थाना से किशुन बाग होते हुए गयासुद्दीन के घर के आउट फॉल तक सवा दो किलो मीटर नाला निर्माण, डीएम आवास से सर्किट हाउस, मुहर्रम चौक होते हुए स्टेशन चौक पुल तक एवं कलेक्ट्रेट चौक से केपी प्लस टू गर्ल्स स्कूल होकर आउट फॉल में मिलने तक 1.6 किलोमीटर नाला निर्माण शामिल है. महापौर श्रीमती सिकारिया ने बताया कि मंत्री परिषद से स्वीकृत योजना में गैसलाल चौक से भोला कुमार के घर के पास नाला से मिलने तक करीब 800 मीटर लिंक नाला निर्माण के साथ सत्यनारायण पेट्रोल पंप के पश्चिम आलोक भारती चौक होते हुए संतावन बाबा मठ के चंद्रावत नदी में आउट फॉल तक कर एक किलो मीटर नाला निर्माण शामिल है. वही नगर के हरनाथ स्कूल से डॉ.दिनेश राय के क्लीनिक से उत्तर द्वारदेवी चौक होते एनएच 727 पार डॉ. नासिर अली के क्लीनिक के पीछे वाले रेलवे लाइन के आउटफॉल तक करीब 1.8 किलोमीटर नाला निर्माण शामिल है. नगर निगम महापौर गरिमा ने आगे बताया कि नगर के टीके मुखर्जी चौक से संत तरेसा चौक और कोयला डिपो से कमलनाथ नगर होते सुप्रिया सिनेमा होकर रेलवे लाइन के आउट फॉल तक 1.6 किलोमीटर नाला निर्माण स्वीकृत हुआ है. इसी प्रकार आलोक भारती चौक से मीना बाजार सब्जी मंडी होते हुए जगदंबा नगर पुल चंद्रावत नदी आउट फॉल तक करीब एक किलो मीटर और सागर पोखरा चौक से पायोनियर कोचिंग सेंटर तक एवं दुर्गा बाग मंदिर के पूरब गेट से वन विभाग कार्यालय होकर एजी मिशन स्कूल होते समीपवर्ती आउट फॉल तक करीब एक किलो मीटर अर्थात कुल करीब 18.50 किलोमीटर तक के लिए नया सिवरेज सिस्टम वाला करीब तीन से दस फीट चौड़ा विशाल नाला निर्माण की करीब तीन साल पुराने महापौर गरिमा के 56.96 करोड़ लागत वाले ड्रीम प्रोजेक्ट पूरा होने से नगर निगम की जनता रूपी जनार्दन के आशीर्वाद से जन सेवा का मेरा एक महत्वपूर्ण संकल्प पूरा होगा.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें