25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

शहर के अधिकतर चापाकल खराब, किसी का हैंडल तो किसी का पाट गायब

लेकिन हकीकत कुछ और है

दाउदनगर. गर्मी का पारा चरम पर है. चिलचिलाती धूप और लू से लोगों का हाल बेहाल है. बड़ी बात यह है कि भीषण गर्मी में भी शहर के अधिकतर चापाकल खराब पड़े हुए हैं. तपती गर्मी में नगर पर्षद से शहर वासियों को पीने के लिए शुद्ध पेयजल भी उपलब्ध नहीं हो रहा है. नगर पर्षद के जनप्रतिनिधि, अधिकारी व पदाधिकारी भले ही क्रियान्वयन को लेकर बड़े-बड़े दावे करते हो, लेकिन हकीकत कुछ और है. प्रभात खबर की टीम ने जब पड़ताल की तो स्थिति भयावह नजर आयी. शहरी क्षेत्र के अधिकतर इलाकों में सार्वजनिक हैंड पंप की स्थिति यह है कि कहीं हैंडल ही गायब है, तो कहीं ऊपर का पाट-पुर्जा ही गायब है. कुछ हैंड पंप तो कुछ साधारण सी तकनीकी खराबी के कारण बंद पड़े हैं. कई इलाकों में महीनों से चापाकल बंद पड़े हैं. शहर के अशोक स्कूल फील्ड के कोना पर, वार्ड 17 में डोमा प्रजापति के घर के पास, वार्ड 16 में राजकीय प्राथमिक विद्यालय बुद्धू बिगहा के पास, वार्ड आठ में हनुमान मंदिर के पास, वार्ड आठ में ही मस्जिद के पास, वार्ड 10 में मिलाप पूजा समिति के पास व वार्ड दो में खराब हैंड पंप की स्थिति को देखकर ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि शहर में सरकारी व सार्वजनिक हैंड पंपों की क्या स्थिति है. डीएम को लिखा पत्र भाजपा के पूर्व नगर अध्यक्ष एवं कसेरा टोली निवासी शंभू कुमार ने डीएम को पत्र लिखकर नगर पर्षद दाउदनगर क्षेत्र में लगे दर्जनों हैंडपंप के ऊपरी हिस्से के सभी पाट-पुर्जा गायब होने के संबंध में ध्यान आकृष्ट कराया है. पत्र में उन्होंने कहा है कि भीषण गर्मी में खराब व बंद चापाकल के कारण असुविधा हो रही है. ऐसी स्थिति में चापाकल की मरम्मति व अन्य जगहों पर चापाकल लगवाने की आवश्यकता महसूस की जा रही है. नगर पर्षद क्षेत्र में दर्जनों हैंड पंप का ऊपरी हिस्सा टूटकर बिखर गया है. दर्जनों हैंड पंप बंद पड़े हैं. नल-जल योजना सही तरीके से नहीं होने के कारण हैंड पंप से ही शुद्ध एवं साफ पानी मिल सकता है. पत्र की प्रतिलिपि पीएचइडी के प्रधान सचिव को भी भेजी गयी है. उठ रहे सवाल सवाल यह उठता है कि नगर पर्षद या पीएचइडी को गर्मी की शुरुआत से पहले ही खराब पड़े हैंड पंप को बनवाने की दिशा में कार्रवाई करनी नहीं चाहिए थी. पिछले वर्ष मरम्मत कराने के बाद क्या उन हैंड पंपों की सुधि फिर नहीं ली गयी कि वे किस हालत में है. अब जब भीषण गर्मी पड़ रही है और खराब पड़े हैंड पंप को लेकर आवाज उठनी शुरू हो गयी हैं. करायी जा रही मरम्मत नप के सिटी मैनेजर विनय प्रकाश ने बताया कि पीएचइडी की एक टीम दाउदनगर आकर शहर में खराब पड़े हैंड पंपों की मरम्मत कर रही है. शहर में तीन वार्डों में आधा दर्जन चापाकलों की मरम्मत हो गयी है, जो भी हैंड पंप खराब पड़े हुए हैं, उनकी मरम्मत करायी जायेगी.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें