1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. araria
  5. 29 indians stranded in nepal returned to their homeland administrative officials received them and sent them to the home block

नेपाल में फंसे 29 भारतीयों की हुई वतन वापसी, प्रशासनिक पदाधिकारियों ने उन्हें रिसीव कर भेजा गृह प्रखंड

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
इंट्रीग्रेटेड चेक पोस्ट पर स्वदेश लौटे भारतीय
इंट्रीग्रेटेड चेक पोस्ट पर स्वदेश लौटे भारतीय
प्रभात खबर

जोगबनी : कोविड-19 को लेकर लगाये गये लॉकडाउन के दौरान नेपाल में फंसे भारतीयो को भारत आने की अनुमति दे दी गयी. नेपाल में फंसे भारतीय नागरिकों को भारत मे लाने के लिए जोगबनी में बने इंट्रीग्रेटेड चेक पोस्ट को ट्रांजिट पॉइंट बनाया गया. वहां वरीय अधिकारियों और डॉक्टरों की टीम द्वारा लोगो की जांच कर उन्हें बसों के जरिये जिला मुख्यालय अररिया के अररिया कॉलेज से उनके होम ब्लॉक में भेज दिया गया.

शिविर में इंतजार करते भारतीय
शिविर में इंतजार करते भारतीय
प्रभात खबर

नेपाल में फंसे 29 भारतीय बुधवार को भारत में प्रवेश किये. ये सभी लोग नेपाल में अपने-अपने रिश्तेदारों के यहां फंसे थे. 29 लोग जो भारत मे प्रवेश किये, उनमें मोरंग जिले के विभिन्न जगहों से आनेवाले 25 लोग और नेपाल के झापा जिले से आनेवाले चार लोग शामिल थे. मालूम हो कि नेपाल के 13 जिले, जहां भारतीय नागरिक फंसे हुए हैं, उनलोगों को भारत मे प्रवेश करने के लिए जोगबनी को ट्रांजिट पॉइंट बनाया गया है. वैसे सभी लोग जो खासकर बिहार के नागरिक हैं और जो भारत आना चाहते हैं, वे अपनी वैध नागरिकता का प्रमाण पेश कर जोगबनी ट्रांजिट पॉइंट से भारत में प्रवेश कर सकते हैं.

जोगबनी आने के बाद उन्हें उनके होम ब्लॉक में भेज दिया जायेगा. बुधवार को भारतीय नागरिकों को भारत लाने के लिए लगाये गये शिविर में एसडीओ योगेश सागर, एएसडीओ रंजीत कुमार, रजिस्ट्रार देवेंद्र कुमार, सीओ संजीव कुमार, डॉक्टर गजेंद्र सिंह, एसएसबी के उप सेनानायक राजीव रंजन, सीमा देवी, जोगबनी थाने के सअनि पंकज शर्मा, इमिग्रेशन के गोपाल राय, सहायक राघव मिश्रा तथा अमित कुमार मौजूद थे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें