शहर में अब नहीं बचेंगे फरार अपराधी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पटना : रंगदारी व लूट के बाद हत्या कर फरार अपराधियों को पकड़ने को लेकर उनकी तस्वीर पुलिस थानों और बैंकों में लगायेगी. इसके तहत थानों में लंबे समय से फरार अपराधी जो पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ पाये हैं और बैंकों में लुटेरे और रेकी करने वाले अपराधियों की तस्वीर चिपकाने का आदेश दिया गया है. सभी थानेदारों को इसके लिए विशेष रूप से आदेश जारी किया गया है.

शहर में 13 अपराधियों की तस्वीर तैयार
पुलिस 13 ऐसे कुख्यात अपराधियों की तस्वीर लगाने जा रही है, जो दिनदहाड़े मर्डर की घटना को अंजाम देते हैं. इसमें दीघा, कोतवाली, जक्कनपुर, आलमगंज, अगमकुआं, कंकड़बाग, दानापुर, रूपसपुर, फुलवारीशरीफ, नौबतपुर, मसौढ़ी आदि थाने शामिल किये गये हैं. इन थानों में 13 ऐसे कुख्यात अपराधी हैं, जो हत्या के बाद पुलिस की गिरफ्त से फरार चल रहे हैं.
इतना ही नहीं जो हत्याओं में लाइजनर की भूमिका निभाने वाले मुख्य आरोपित भी हैं उनकी भी तस्वीर लगायी जायेगी. पुलिस की मानें, तो फोटो देख आम लोग अपराधियों को पहचान लेंगे और पुलिस को सूचना देकर मदद करेंगे. इसके अलावा उन अपराधियों से अलर्ट भी रहेंगे.
अपराधी हो चुके हैं चिह्नित
बैंकों से राशि निकालने वाले ग्राहकों की अपराधी पहले रेकी करते हैं. इसके बाद अपने साथी को सूचित करा कर उनकी राशि की लूट करा देते है. बैंकों में लगे सीसीटीवी में कई लुटेरे और रेकी करने वाले अपराधियों की तस्वीर कैद हो चुकी है. हत्या के मामले में भी मकान व दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद अपराधियों की तस्वीर से मामला दर्ज किया गया है. वहीं, एसएसपी गरिमा मलिक ने कहा कि अपराधियों व लूटेरों की तस्वीर देख ग्राहक वैसे संदिग्धों से सतर्क हो जायेंगे.
साथ ही स्थानीय पुलिस को भी सूचना देंगे. इससे अपराधी आसानी से पकड़े जायेंगे. सभी थानों व बैंकों में स्थानीय पुलिस स्टेशन, डीएसपी व वरीय अधिकारियों के नंबर की बोर्ड लगाने का आदेश दिया गया है. उन्होंने कहा कि सभी लोगों को स्थानीय थाने का नंबर उपलब्ध नहीं होता. बैंकों में लगे बोर्ड पर पुलिस अधिकारियों के नंबर मिल जाने से वे आसानी से किसी तरह की सूचना दे सकते हैं.
कैश वैन में तैनात लोगों का सत्यापन कराएं
पटना : बैंकों के सुरक्षा उपकरण अलार्म व सीसीटीवी आदि को अपडेट रखें. साथ ही अन्य सुरक्षा उपकरणों को समय- समय पर तकनीकी विशेषज्ञों से जांच भी कराएं. ये बातें एसएसपी गरिमा मलिक ने शनिवार को कहीं.
पंजाब नेशनल बैंक के अंचल कार्यालय में आयोजित पटना जिले के तहत बैंकों की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर जिला स्तरीय सुरक्षा समिति की बैठक को संबोधित करते हुए गरिमा मलिक ने कहा कि बैंक के कैश एस्कोर्ट के लिए कैश वैन में तैनात सुरक्षाकर्मी, चालक व वाहन मालिक का सत्यापन किया जाना आवश्यक है.
उन्होंने सभी बैंक प्रबंधकों को यह आश्वस्त किया कि किसी प्रकार से असुरक्षित महसूस करने की स्थिति में वे तत्काल स्थानीय पुलिस अधिकारी को सूचना दें. पुलिस की ओर से जल्द कार्रवाई की जायेगी. एसएसपी ने कहा कि बैंकों के अंदर किसी संदिग्ध व्यक्ति के पाये जाने पर तत्काल पुलिस को सूचना दें तथा बैंकों के अंदर मोबाइल फोन के प्रयोग को सख्ती से प्रतिबंधित करें.
इसके पूर्व कार्यक्रम के संयोजक अग्रणी जिला प्रबंधक डॉ संधीर कुमार ने बैंक की सुरक्षा समस्याओं को एसएसपी गरिमा मलिक के समक्ष रखा. इसके बारे में पुलिस अधीक्षक जीतेंद्र कुमार व केके मिश्रा ने विस्तार से चर्चा करते हुए उसका समाधान बताया. बैठक में सभी बैंकों के सुरक्षा अधिकारी मौजूद थे.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें