1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. former pakistan cricketer mushtaq ahmed on virat kohli and indian cricket team rkt

दो ग्रुप में बंटी हुई है भारतीय टीम, ड्रेसिंग रूम में सब कुछ ठीक नहीं- पूर्व खिलाड़ी का बड़ा बयान

पाकिस्तान के पूर्व टेस्ट स्पिनर मुश्ताक अहमद (Mushtaq Ahmed) का कहना है भारतीय टीम के ड्रेसिंगरूम में सब कुछ एकदम ठीक नहीं है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
दो ग्रुप में बंटी हुई है भारतीय टीम
दो ग्रुप में बंटी हुई है भारतीय टीम
twitter

टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) से भारतीय टीम का सफर खत्म हो गया है. यह टूर्नामेंट भारतीय टीम के लिए किसी बुरे सपने से कम नहीं रहा, क्योंकि विराट कोहली (Virat Kohli) एंड कंपनी टूर्नामेंट की सबसे फेवरेट टीम मानी जा रही थी पर मैन इन ब्लू सुपर-12 से आगे जगह नहीं बना पायी. वहीं टूर्नामेंट खत्म होने के बाद BCCI ने रोहित शर्मा को भारत का नया टी20 कप्तान नियुक्त किया है. विराट कोहली के टी20 कप्तानी छोड़ने पर दुनिया भर से रिएक्शन आ रहे हैं. वहीं अब पूर्व पाकिस्तानी खिलाड़ी मुश्ताक़ अहमद (Mushtaq Ahmed) ने कोहली के कप्तानी छोड़ने पर बड़ा बयान दिया है.

पाकिस्तानी खिलाड़ी मुश्ताक़ का मानना है कि विराट का अचानक से कप्तानी छोड़ना यह दर्शा रहा है कि भारतीय ड्रेसिंग रूम में सब ठीक नहीं है. पूर्व पाक खिलाड़ी ने कहा-'जब एक सफल कप्तान बीच में कप्तानी छोड़ दे तो इसका मतलब साफ है कि टीम में सब कुछ सामान्य नहीं है" उन्होंने टीम इंडिया पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि मुझे लगता है टीम इंडिया में दो ग्रुप हैं एक दिल्ली ग्रुप और एक मुंबई ग्रुप. बता दें कि इस समय मुश्ताक पीसीबी (PCB) में पदाधिकारी हैं.

पाकिस्तानी खिलाड़ी ने भारत के इस टूर्नामेंट में खराब प्रदर्शन के पीछे बायो-बबल की थकान को जिम्मेदार ठहराया है. बता दें कि भारतीय टीम के पू्र्व कोच रवि शास्त्री ने भी टीम के खराब प्रदर्शन का ठीकरा बायो-बबल पर फोड़ा था. रवि शास्त्री ने कहा कि भले ही आप ‘डॉन ब्रैडमैन’ क्यों न हों, कई महीनों तक जैव सुरक्षित वातावरण (बायो बबल) में रहने का असर आप पर जरूर पड़ेगा. शास्त्री का भारतीय टीम के साथ कार्यकाल सोमवार को नामीबिया के खिलाफ टी-20 विश्व कप मैच के साथ ही समाप्त हो गया. उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों को आइपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) और विश्व कप के बीच लंबे विश्राम की जरूरत थी. जब आप छह महीने बायो बबल में रहते हैं, तो उसका असर पड़ता है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें