30.8 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

डेविड वॉर्नर ने कोहली का तोड़ा बड़ा रिकॉर्ड, ये कारनामा करने वाले बने पहले ऑस्ट्रेलियाई

ऑस्ट्रेलियाई टीम वेस्टइंडीज के साथ तीन मैच की टी20 सीरीज खेल रही थी. वॉर्नर ने जाते-जाते इस मुकाबले को यादगार बना दिया. उन्होंने ताबड़तोड़ बैटिंग करते हुए 81 रन बनाए. वॉर्नर ने इस पारी की बदौलत विराट कोहली का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया.

ऑस्ट्रेलियाई टीम वेस्टइंडीज के साथ तीन मैच की टी20 सीरीज खेल रही थी. तीसरा और अंतिम टी20 मुकाबला पर्थ में खेला गया. इस मैच में वेस्टइंडीज ने 37 रन से जीत हासिल कर अपनी लाज बचाई. इस टी20 मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के स्टार सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने बल्ले से तूफानी पारी खेली. इस पारी के साथ ही वॉर्नर ने टी20 में एक बड़ा कारनामा कर दिखाया. वॉर्नर ने जाते-जाते इस मुकाबले को यादगार बना दिया. उन्होंने ताबड़तोड़ बैटिंग करते हुए 81 रन बनाए. वॉर्नर ने इस पारी की बदौलत विराट कोहली का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया. हालांकि ऑस्ट्रेलियाई टीम यह मैच जीत नहीं सकी. दरअसल वॉर्नर टी20 फॉर्मेट में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में पांचवें स्थान पर पहुंच गए हैं. उन्होंने इस मामले में कोहली को पीछे छोड़ दिया है. वॉर्नर ने टी20 में 12000 रन भी पूरे कर लिए हैं. जबकि कोहली अभी ये आंकड़ा छू नहीं पाए हैं. वॉर्नर ने 369 मुकाबलों में 12033 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने आठ शतक और 101 अर्धशतक लगाए हैं.

इस रेस में क्रिस गेल सबसे आगे

वॉर्नर टी20 फॉर्मेट में 12000 से ज्यादा रन बनाने वाले पहले ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी हैं. टी20 फॉर्मेट में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड क्रिस गेल के नाम दर्ज है. उन्होंने 463 मैचों में 14562 रन बनाए हैं. इस दौरान 22 शतक और 88 अर्धशतक लगाए हैं. इस लिस्ट में पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक दूसरे नंबर पर हैं. मलिक ने 531 मैचों में 13096 रन बनाए हैं. कायरन पोलार्ड तीसरे नंबर पर हैं. वहीं एलेक्स हेल्स चौथे नंबर पर हैं.

कैसा रहा वॉर्नर का इंटरनेशनल करियर

डेविड वॉर्नर का करियर अभी तक शानदार रहा है. उन्होंने 112 टेस्ट मैचों में 8786 रन बनाए हैं. इस दौरान वे तिहरा शतक भी जड़ चुके हैं. वॉर्नर का सर्वश्रेष्ठ टेस्ट स्कोर नाबाद 335 रन रहा है. उन्होंने 26 शतक और 37 अर्धशतक लगाए हैं. वॉर्नर ने 161 वनडे मैचों में 6932 रन बनाए हैं. वे इस फॉर्मेट में 22 शतक और 33 अर्धशतक लगा चुके हैं. वे 102 टी20 इंटरनेशनल मैच खेल चुके हैं.

डेल स्टेन की गेंद से डरते थे वॉर्नर

सभी फैंस अक्सर इस सवाल को जानने के लिए उत्सुक रहते हैं कि उनके पसंदीदा बल्लेबाज को किस गेंदबाज ने सबसे ज्यादा परेशान किया है. वॉर्नर ने Cricket.com.au से बात करते हुए बताया कि उन्हें करियर में सबसे मुश्किल गेंदबाज दक्षिण अफ्रीका के डेल स्टेन लगे. वॉर्नर ने बिना सोचे सीधे शब्दों में डेल स्टेन का नाम लिया. वॉर्नर ने कहा, ‘बिना किसी शक के डेल स्टेन.’ वॉर्नर ने इस बात को भी साफ किया आखिर क्यों उन्हें स्टेन मुश्किल गेंदबाज लगे. वॉर्नर ने बताया कि मैं वाका वापस गया (दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2016-17 होम टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला), जब मुझे और शॉन मार्श को 45 मिनट के खराब सेशन के लिए जाना पड़ा था. शॉन मेरे पास आया और उसने कहा कि मैं उसे पुल नहीं मार सकता तो मुझे नहीं पता कि मैं उसका सामना कैसे करूंगा. उन्होंने आगे कहा, ‘उन्होंने मुझे बैक साइड पर रखा और मुझे लगता है कि उन्होंने उस मुकाबले में अपना कंधा भी तोड़ लिया था. वह एक भयंकर प्रतियोगी है जो लेफ्ट हैंडर के लिए अंदर की ओर गेंद स्विंग कराता है, जो मिचेल स्टार्क के जैसा है. स्टार्क राइट हैंड बल्लेबाज के लिए रफ्तार से गेंद अंदर की तरफ स्विंग कराते हैं.’ बता दें कि डेविड वॉर्नर इकलौते ऐसे बल्लेबाज नहीं है, जिन्हें डेल स्टेन ने परेशान किया है. स्टेन ने दुनिया के कई दिग्गज बल्लेबाजों को अपनी गेंदों पर नचाया है.

विश्व कप 2023 के दौरान वॉर्नर ने लिया था ये अहम फैसला

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर मीडिया से बातचीत करते हुए वॉर्नर ने कहा, ‘मैं निश्चित तौर पर वनडे क्रिकेट से संन्यास ले रहा हूं. यह कुछ ऐसा था, जो मैंने वर्ल्ड कप के दौरान ही सोच लिया था. आज मैंने फैसला कर लिया कि क्रिकेट के इस फॉर्मेट को भी अलविदा कहने का वक्त आ गया है. वनडे से सन्यास लेने के बाद भी मैं कई टी20 लीग खेलता रहूंगा और मुझे कई टी20 लीग में खेलने का मौका मिलेगा.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैं जानता हूं कि चैंपियंस ट्रॉफी नजदीक है. अगर मैं आने वाले दो साल में अच्छा क्रिकेट खेलता रहा और ऑस्ट्रेलिया को मेरी जरूरत रही तो मैं उपलब्ध रहूंगा.’

अपने आखिरी टेस्ट मैच ग्राउंड के रूप में वॉर्नर ने लॉर्ड्स नहीं बल्कि सिडनी को चुना

वॉर्नर ने बीते दिनों को याद करते हुए कहा, ‘मैंने कहा था कि समापन के लिए मेरी आदर्श तैयारी सिडनी होगी.’ ‘लेकिन मैंने वास्तव में लॉर्ड्स को अपने आखिरी टेस्ट के रूप में चुना था, खासकर तब जब मैं शीर्ष क्रम में उजी के साथ साझेदारी के रूप में उतना अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाया था.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें