1. home Hindi News
  2. religion
  3. amar nath yatra amarnath yatra will be telecast live for the first time the board contacted dd national

Amar Nath Yatra: पहली बार होगा अमरनाथ यात्रा का लाइव टेलीकास्ट, बोर्ड ने किया डीडी नेशनल से संपर्क

By Radheshyam Kushwaha
Updated Date

कोरोना संकट के बीच पहली बार श्री अमरनाथ यात्रा का लाइव टेलीकास्ट होगा. ऐसा पहली बार होगा की श्रद्धालु अपने घर में बैठकर भी बाबा बर्फानी की आरती देखेंगे. इसके लिए श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड (SASB) ने दूरदर्शन चैनल से एक खास अपील की है. बोर्ड ने तीर्थयात्रा के दौरान सुबह और शाम की पूजा का लाइव टेलीकास्ट करने के लिए डीडी नेशनल से संपर्क किया है. पांच जुलाई (व्यास पूर्णिमा) से 3 अगस्त (रक्षाबंधन) तक सुबह व शाम दोनों वक्त की आरती का दूरदर्शन पर सीधा प्रसारण होगा. पवित्र गुफा से 1.2 किलोमीटर दूर निचली गुफा के पास नया हैलीपैड बनाया जा रहा है. पहलगाम डेवलपमेंट अथॉरिटी को 30 जून तक इसका काम पूरा कर लेने को कहा गया है. तीर्थयात्रा अगले महीने से शुरू होने की संभावना है.

उप राज्यपाल जीसी मुर्मू ने मंगलवार को राजभवन में उच्च स्तरीय बैठक कर अमरनाथ यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की. बैठक में बताया गया कि पारंपरिक बालटाल ट्रैक को 80 फीसदी तक क्लियर कर लिया गया है. इस ट्रैक पर सात में से पांच पुल शुरू कर दिए गए हैं. सभी सेवा प्रदाताओं का पुलिस ने सत्यापन कर लिया है. वे सेवाएं देने के लिए तैयार भी हैं. श्राइन बोर्ड के सीईओ बिपुल पाठक ने बताया कि पवित्र गुफा में शिविर पहले से ही स्थापित है. बर्फ हटाने का काम पूरा हो चुका है. बेस कैंप बालटाल और नीलग्राथ हैलीपैड अगले सप्ताह तक तैयार कर लिया जाएगा

दूरदर्शन को प्रस्ताव ऐसे समय में भेजा गया है जब महामारी के चलते यात्रा को छोटे स्तर पर आयोजित करने के लिए चर्चा चल रही है. हालांकि अभी अधिकारियों द्वारा इसकी तारीखों की घोषणा नहीं की गई है. इसके 21 जुलाई से शुरू होने और अगस्त के पहले सप्ताह में समाप्त होने की संभावना है.

श्रीनगर स्थित दूरदर्शन केंद्र के प्रोग्रामिंग हेड जीडी ताहिर ने द इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि अगर टेलीकास्ट होता है तो ऐसा पहली बार होने जा रहा है. उन्होंने कहा कि आखिरी निर्णय मुख्यालय द्वारा लिया जाना है. ताहिर ने कहा कि एसएएसबी ने दूरदर्शन से लाइव टेलीकास्ट के संचालन की संभावना का पता लगाने के लिए संपर्क किया है. इससे पहले हमने अमरनाथ यात्रा के रिकॉर्ड किए गए कार्यक्रम चलाए. इस बार लाइव टेलीकास्ट की योजना बना रहे हैं, क्योंकि कोरोना वायरस महामारी के चलते यात्रियों को भारी संख्या में आने की अनुमति नहीं है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें