Maha Shivaratri 2020: बाबा बैद्यनाथ व पार्वती मंदिर का उतरा पंचशूल, स्पर्श करने उमड़े भक्त

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

Maha Shivratri, Maha Shivaratri 2020 देवघर : महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में फाल्गुन मास कृष्ण पक्ष एकादशी को बाबा बैद्यनाथ व पार्वती मंदिर के शिखर से पंचशूल उतारा गया. बाबा बैद्यनाथ मंदिर में पंचशूल का विशेष महत्व है. बुधवार को पंचशूल को स्पर्श करने के लिए भक्तों का हुजूम उमड़ पड़ा. पूरा मंदिर परिसर भक्तों से पट गया. पंचशूल के नीचे उतरते ही जय शिव, हर हर महादेव, जय बाबा.., आदि जयकारे लगने लगे. दिन के करीब सवा दो बचे भंडारी परिवार के चिंतामणि भंडारी, शिवशंकर भंडारी, राजू भंडारी आदि आठ सदस्य शिखर पर चढ़े.

पंचशूल को शिखर से उतार कर धरनाधारी छत पर मंदिर प्रबंधक रमेश परिहस्त को सौंपा. मंदिर प्रबंधक के सीढ़ी से नीचे उतरते ही पंचशूल छूने के लिए भक्त उमड़ पड़े. भक्तों की आस्था के सामने पुलिस बल भी नतमस्तक दिखे. खुद पुलिसकर्मी भी पंचशूल स्पर्श करने के लिए भक्तों के साथ प्रयास करते दिखे. मंदिर प्रबंधक रमेश परिहस्त ने बताया कि गुरुवार 20 फरवरी को प्रशासनिक भवन स्थित सरदार पंडा गद्दी घर के बगल में सरदार पंडा श्रीश्री गुलाब नंद ओझा पूजा, आचार्य गुलाब पंडित व उपचारक भक्ति नाथ फलाहारी विशेष पूजा करेंगे. पूजा का शुभारंभ सुबह लगभग साढ़े आठ बजे किया जायेगा. यह सुबह 10 बजे तक चलेगा. इसके बाद सुबह लगभग साढ़े 10 बजे सभी मंदिरों के शिखर पर पंचशूल को चढ़ाया जायेगा. मौके पर मंदिर थाना प्रभारी मनोज कुमार, सोना सिन्हा, धर्मानंद झा, बाबा झा, महेश श्रृंगारी, जयदेव मिश्र, अमित परासर सहित बड़ी संख्या में तीर्थपुरोहित व स्थानीय भक्त मौजूद थे.

पंचशूल की हुई सफाई : पंचशूल को उतारने के बाद सफाई की गयी. इसमें मंदिर कर्मियों के साथ-साथ बाबाधाम पूजा करने आये कई बाहरी श्रद्धालु भी सफाई कार्य में जुट गये. मंदिर के शिखर से पंचशूल उतारने से पहले बाबा-पार्वती के गठबंधन के धागे को पंचशूल से हटाया गया. इसे लेने के लिए भी भक्तों में होड़ मच गयी.

सरदार पंडा ने पंचशूल को किया प्रणाम
पंचशूल को मंदिर शिखर से उतार कर सरदार पंडा श्रीश्री गुलाब नंद ओझा के पास लाया गया. उन्होंने प्रणाम किया. इसके बाद मंदिर प्रशासनिक भवन लाया गया. वहां डीसी नैंसी सहाय, एसपी नरेंद्र सिंह, एसडीओ विशाल सागर, एसडीपीओ विकास चंद्र श्रीवास्तव, प्रशिक्षु आइएएस रवि आनंद आदि जिला के वरीय पदाधिकारियों ने भी पत्नी के साथ पंचशूल को प्रणाम किया.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें