Advertisement

Company

  • Jan 12 2019 5:24PM

ONGC की तृष्णा गैस परियोजना को राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड से मिल गयी मंजूरी

ONGC की तृष्णा गैस परियोजना को राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड से मिल गयी मंजूरी

अगरतला : सार्वजनिक क्षेत्र की ओएनजीसी त्रिपुरा एसेट जल्द ही त्रिपुरा में तृष्णा वन्यजीव अभयारण्य से प्राकृतिक गैस निकालना शुरू करेगी. कंपनी को इसके लिए राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड से मंजूरी मिल गयी है. यह प्राकृतिक गैस क्षेत्र गोमती जिले के बेलोनिया उपमंडल में पड़ता है. कंपनी के परिसंपत्ति प्रबंधक गौतम कुमार सिंह रॉय ने शनिवार को संवाददाताओं से कहा कि कंपनी ने बहुत पहले तृष्णा वन्यजीव अभयारण्य में 10-12 गैस के कुंओं की पहचान की थी जिनमें गैस के भंडार होने का पता है.

इसे भी पढ़ें : ONGC के तेल एवं गैस फील्ड को बेचने की योजना पर पीएम मोदी से हस्तक्षेप की मांग

उन्होंने कहा कि चूंकि यह गैस क्षेत्र अभयारण्य में आता है. इसलिए हमें राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड से मंजूरी की जरूरत थी. उन्होंने कहा कि राज्य वन्यजीव बोर्ड की सिफारिशों के बाद राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड ने गुरुवार को इस परियोजना को मंजूरी प्रदान कर दी है. राज्य बोर्ड ने इस संबंध में 17 सितंबर को ही अपनी मंजूरी दे दी थी.

रॉय ने कहा कि कंपनी ने पाइपलाइन बिछाने का काम पहले ही पूरा कर लिया है और पूरी प्रक्रिया को जल्द ही पूरा कर लिया जायेगा. यहां से उत्खनन की जाने वाली गैस को पूर्वोत्तर विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड (नीप्को) के मोनार्चक स्थित 100 मेगावाट क्षमता के गैस आधारित तापीय विद्युत परियोजना को भेजी जायेगी.

Advertisement

Comments

Advertisement