1. home Hindi News
  2. national
  3. weather forecast today heavy rain warning in bihar jharkhand bengal and odisha monsoon will reach north india late pkj

Weather Forecast : बिहार, झारखंड, बंगाल और ओडिशा में भारी बारिश की चेतावनी, इन इलाकों में देर से पहुंचेगा मानसून

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
weather forecast today
weather forecast today
file

मानसून ने देश के अलग- अलग राज्यों में अपना मिजाज बदल लिया है, कहीं बारिश की वजह से बाढ़ की स्थिति है, तो कहीं अब भी लोगों को बारिश का इंतजार है. पूर्वी भारत के के जिन इलाकों में बारिश हो रही है उनमें झारखंड, बिहार, बंगाल ओड़िशा जैसे राज्य हैं तो दक्षिण पश्चिम के इलाकों में बारिश कमजोर हो रही है हालांकि इन इलाकों में छिटपुर बारिश की संभावना है.

दिल्ली, राजस्थान के कुछ इलाको में अगले सात दिनों में बारिश के और आगे बढ़ने का संभावना कम ही. मौसम विभाग ने संभावना जाहिर की है कि 25 जून से आने वाले एक सप्ताह तक ज्यादातर इलाकों में मौसम शुष्क रहेगा और तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी भी हो सकती है. राजस्थान में मानसून ने 18 जून दस्तक जरूर दे दी लेकिन आगे नहीं बढ़ा 19 जून से 23 जून तक एक जगह ही स्थिर है.

बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल सहित कई राज्यों में बारिश की संभावना जाहिर की गयी है मुख्य रूप से इनमें उत्तरी छत्तीसगढ़, झारखंड, उप हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में भारी बारिश के आसार हैं. इसके अलावा आने वाले 5 दिनों के दौरान गंगीय पश्चिम बंगाल और ओडिशा के अलग-अलग इलाकों में भारी बारिश हो सकती है. झारखंड में 21 जून तक 219.8 मिमी बारिश रिकार्ड हुई है जिसमें सर्वाधिक बारिश जामताड़ा में दर्ज की गयी है.

मौसम विभाग ने दिल्ली एनसीआर में 26 जून से हल्की बारिश का अनुमान लगाया गया है. इन इलाकों में मानसून की बारिश के लिए अभी इंतजार करना पड़ सकता है. मानसनू के 15 जून तक दिल्ली पहुंचने की संभावना जाहिर की गयी है . मानसून पहले पहुंच रहा है मुख्य रूप से यह 27 जून तक दिल्ली पहुंच जाता है और आठ जुलाई तक पूरे देश में आ जाता है.मानसून के देर होने का कारण पश्चिमी हवाएं हैं जो उसे आगे बढ़ने से रोक रही है और ये हालात अभी एक सप्ताह तक इसी तरह रहने का अनुमान है.

देश में अबतक 37 फीसदी अतिरिक्त बारिश हो चुकी है. मुख्य रूप से जिन क्षेत्रों में ज्यादा बारिश हुई उनमें भारत के उत्तर-पश्चिम इलाकों में 71.3 मिलीमीटर बारिश हुई जो सामान्य तौर पर हुई बारिश में 76 फीसदी ज्यादा है. वहीं मध्य भारत में 92.2 मिलीमीटर के मुकाबले 58 फीसदी ज्यादा बारिश हुई. इस तरह देश के अलग- अलग भागों में बारिश दर्ज की गयी है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें