1. home Hindi News
  2. national
  3. toolkit case isi funding latest updates police searching nikita and shantanu delhi police khalistan movement prt

टूलकिट जांच में कई खुलासे, पुलिस को शक- ISI से हुई फंडिंग, इनकी गिरफ्तारी से उठेगा मामले से पर्दा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पुलिस को शक- ISI से हुई फंडिंग
पुलिस को शक- ISI से हुई फंडिंग
ANI Photo
  • टूलकिट मामले में निकिता और शांतनु की तलाश में पुलिस

  • आईएसआई से भी जुड़े हो सकते हैं टूलकिट मामले के तार

  • 11 जनवरी की जूम मीटिंग में तय हो गया था प्रोग्राम

टूलकिट मामले में जैसे जैसे जांच आगे बढ़ रही है, वैसे-वैसे नये नये खुलासे सामने आ रहे हैं. अब तक हुई मामले की जांच में भजन सिंह भिंडर उर्फ इकबाल चौधरी और पीटर फ्रेडरिक के नाम भी सामने आए हैं. ये दोनों आईएसआई से जुड़े हैं. दोनों के नाम दिल्ली पुलिस को टूलकिट लिस्ट में मिले हैं. वहीं, पुलिस इस बात की संभावना जता रही है कि कहीं इस मुहिम की फंडिंग आईएसआई की ओर से तो नहीं की गई. दिल्ली पुलिस की साइबर सेल इसकी पड़ताल कर रही है.

इस मामले में जैसे जैसे परत हट रही है पुलिस के सामने नये नये खुलासे हो रहे हैं. हालांकि, पुलिस का कहना है कि पूरे मामले का खुलासा निकिता और शांतनु की गिरफ्तारी के बाद ही हो पाएगा. फिलहाल, दिल्ली पुलिस कई एंगल से मामले की जांच कर रही है, और मामले से जुड़े हरएक की गिरफ्तारी में लगी है. वहीं, पुलिस तकनीकी बिंदुओं को भी ध्यान में रखते हुए हर पहलू की जांच कर रही है.

गौरतलब है कि, टूलकिट में कब क्या होना है, इसपर आगे कैसे काम करना है, और इसे किस-किसको भेजना है, इसपर 11 जनवरी को जूम मीटिंग में ही तय कर लिया गया था. इस जूम मीटिंग में एमओ धालीवाल, दिशा, निकिता, शांतनु समेत कुल 70 लोग शामिल हुए थे. अब पुलिस एक एककर सभी की पड़ताल कर रही है. पुलिस सभी की जानकारी भी जुटा रही है. अभी तक की जांच के आधार पर पुलिस का कहना है कि पुणे की रहने वाली सोशल वर्कर और इंजीनियर शांतनु ने टूलकिट तैयार करवाई है.

वहीं, मुंबई की रहने वाली निकिता जैकब पर टूल किट मैं एडिट करने का आरोप है. निकिता पेशे से वकील हैं. उनका नाम उस समय पुलिस के सामने आया जब टूल किट मामले की जांच शुरू हुई. और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से टूलकिट के बारे में जानकारी मांगी गई. पुलिस को टूलकिट के कई स्क्रीनशॉट भी मिले. जिसमें निकिता जैकब का नाम सामने आया.

बता दें, टूलकिट भेजने वालों की लिस्ट में पीटर फ्रेडरिक का भी नाम शामिल है. और पीटर पैट्रिक खालिस्तानी आतंकी भजन सिंह भिंडर का साथी है. वो आईएसआई के लिए भी काम कर चुका है. ऐसे में माना जा रहा है कि पूरे मामले से आईएसआई भी जुड़ी हुई है.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें