1. home Hindi News
  2. national
  3. sovereign gold bond scheme opens chance to buy gold in cheap rate in this festive season all details here pwn

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम, यहां जानें सस्ते दाम में सोना खरीदने का सुनहरा मौका

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम, यहां जानें सस्ते दाम में सोना खरीदने का सुनहरा मौका
सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम, यहां जानें सस्ते दाम में सोना खरीदने का सुनहरा मौका
Twitter

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (SGB) स्कीम 2020-21 की सातवीं किश्त सोमवार से सोमवार से खुल गयी है. इसके तहत ग्राहक सस्ते दामों में सोने की खरीदारी कर सकते हैं. गोल्ड बॉन्ड को लेकर जारी बयान में आरबीआई ने कहा कि इस बार सॉवरेन गोल्ड बांड के लिए निर्गम मूल्य 5,051 रुपये प्रति ग्राम तय किया गया है. डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए इस पहले की तरह ही इस बार भी आरबीआई ने कहा कि जो लोग सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम में ऑनलाइन निवेश करेंगे उन्हें प्रतिग्राम सोने में 50 रुपये की छूट दी जायेगी. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम के तहत सोना खरीदने वाले को प्रत्यक्ष रूप से सोना नहीं मिलता है पर इसमें निवेश करना उससे सुरक्षित है.

हालांकि जो निवेशक इस बार गोल्ड बॉन्ड नहीं खरीद पायेंगे उन्हें निराश होने की जरूरत नहीं है क्योंकि इसके बाद गोल्ड बॉन्ड की आठवीं सीरीज शुरु होगी. इसके तहत निवेशक नौ नवंबर से 13 नवंबर तक सब्क्रिप्शन ले सकते हैं. गौरतलब है क भारत सरकार की ओर से आरबीआई सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम जारी कर रहा है.

इतना सोना खरीद सकते हैं

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम के तहत निवेशक एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम एक ग्राम सोना से लेकर अधिकतम चार किलोग्राम तक सोना खरीद सकता है. जो बॉन्ड के रूप में मिलता है. गोल्ड बॉन्ड में निवेश करने का फायदा यह है कि आप इसके जरिये टैक्स बचा सकते हैं.

कौन नहीं खरीद सकते हैं गोल्ड बॉन्ड

गोल्ड बॉन्ड में ट्रस्टी व्यक्तियों द्वारा नहीं खरीदा जा सकता है. इसके अलावा ट्रस्ट, एचयूएफ, विश्वविद्यालय और धार्मिक संस्थान नहीं खरीद सकते हैं. उनके लिए इसे प्रतिबंधित किया गया है.

कैसे खरीदे गोल्ड बॉन्ड

गोल्ड बॉन्ड में निवेश करने के लिए निवेशक आरबीआई,पेमेंट बैंक और लघु वित्त बैंक को छोड़कर किसी भी बैंक में अप्लाई कर सकते हैं. इसके अलावा स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड, डाकघर एनएसई और बीएसई में एजेंट से आवेदन प्राप्त कर सकते हैं

बता दें कि नवंबर 2015 में भौतिक सोने की मांग को कम करने और घरेलू बचत के एक हिस्से को स्थानांतरित करने के उद्देश्य से सॉवरेन स्वर्ण बांड योजना शुरू की गई थी. जिसका उपयोग सोने की खरीद के लिए किया गया था.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें