1. home Home
  2. national
  3. skm announced to stop indian rail for six hours on 18 october in protest of lakhimpur kheri farmers killing case mtj

18 अक्टूबर को छह घंटे के लिए थम जायेंगी ट्रेनें! संयुक्त किसान मोर्चा ने किया ये एलान

संयुक्त किसान मोर्चा ने रविवार को बयान जारी कर कहा कि ‘रेल रोको’ प्रदर्शन के दौरान सोमवार को पूर्वाह्न 10 बजे से अपराह्न चार बजे तक सभी मार्गों पर छह घंटे के लिए रेल यातायात को रोका जायेगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
18 अक्टूबर को 6 घंटे रेल रोकेगा संयुक्त किसान मोर्चा
18 अक्टूबर को 6 घंटे रेल रोकेगा संयुक्त किसान मोर्चा
प्रतीकात्मक तस्वीर

नयी दिल्ली: संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने घोषणा की है कि वह सोमवार (18 अक्टूबर) को लखीमपुर हिंसा के मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा की बर्खास्तगी और गिरफ्तारी की मांग पर रेल रोकेंगे. केंद्र के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे विभिन्न किसान संगठनों के संयुक्त मंच एसकेएम ने एक बयान में कहा, ‘जब तक लखीमपुर खीरी मामले में न्याय नहीं मिल जाता, प्रदर्शन और तेज होगा.’

संयुक्त किसान मोर्चा ने रविवार को बयान जारी कर कहा कि ‘रेल रोको’ प्रदर्शन के दौरान सोमवार को पूर्वाह्न 10 बजे से अपराह्न चार बजे तक सभी मार्गों पर छह घंटे के लिए रेल यातायात को रोका जायेगा. बयान में कहा गया है, ‘गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त कर गिरफ्तार करने की मांग को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा ने कल राष्ट्रव्यापी रेल रोको कार्यक्रम की घोषणा की है, ताकि लखीमपुर खीरी जनसंहार में न्याय मिल सके.’

किसान संयुक्त मोर्चा ने कहा, ‘एसकेएम अपने सभी घटकों को 18 अक्टूबर को पूर्वाह्न 10 बजे से अपराह्न चार बजे तक छह घंटे तक रेल रोकने का आह्वान करता है. एसकेएम अपील करता है कि यह शांतिपूर्ण और रेलवे की संपत्ति को बिना नुकसान पहुंचाए किया जाये.’ गौरतलब है कि तीन अक्टूबर को हुई हिंसा में चार किसानों सहित आठ लोगों की मौत हो गयी थी.

आरोप है कि केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा टेनी ने अपनी कार से लखीमपुर खीरी में आंदोलन कर रहे किसानों को रौंद दिया था. इसमें 4 किसानों की मौत हो गयी थी. किसानों को रौंदे जाने के बाद वहां मौजूद किसानों ने पीट-पीटकर चार लोगों को मार डाला था. अजय मिश्रा टेनी ने इन्हें भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का कार्यकर्ता बताया था.

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा ने घटना के बाद अपने बेटे को निर्दोष बताया था. आशीष मिश्रा ने भी दावा किया था कि घटना के वक्त वह अपने गांव में दंगल में मौजूद थे. लेकिन, पुलिस की पूछताछ में इसे साबित नहीं कर पाये. लंबी पूछताछ के बाद पुलिस ने आशीष मिश्रा टेनी को गिरफ्तार कर लिया. आशीष मिश्रा इस वक्त न्यायिक हिरासत में हैं.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें