1. home Home
  2. national
  3. shirdi sai baba temple will open from the first day of navratri devotees to be have to follow the new guideline vwt

नवरात्रि के पहले दिन से खुलेगा शिरडी का साईं मंदिर, भक्तों को नई गाइडलाइंस का करना होगा पालन

देश में कोरोना की पहली लहर के शरू होने के बाद 17 मार्च 2020 से ही शिरडी का साईं मंदिर भक्तों के लिए बंद कर दिया गया था.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कोरोना काल में दो बार बंद हुआ है शिरडी का साईं मंदिर.
कोरोना काल में दो बार बंद हुआ है शिरडी का साईं मंदिर.
फोटो : ट्विटर.

Shirdi Sai Temple : देश में कोरोना संक्रमण की कम होती रफ्तार के बाद धीरे-धीरे संस्थानों और धार्मिक स्थलों को दोबारा खोलने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. इसी के तहत कल यानी बुधवार से शुरू होने वाली शारदीय नवरात्र के पहले दिन से शिरडी के साईं मंदिर को खोला जा रहा है. श्रीसाईं बाबा संस्थान ट्रस्ट की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, बुधवार से शिरडी साईं मंदिर भक्तों के लिए खोल दिया जाएगा. जरूरी यह है कि भक्तों को श्रीसाईं बाबा संस्थान ट्रस्ट की ओर से जारी की गई नई गाइडलाइंस का पालन करना होगा.

कोरोना काल में दो बार बंद हो चुका है साईं मंदिर

गौरतलब है कि देश में कोरोना की पहली लहर के शरू होने के बाद 17 मार्च 2020 से ही शिरडी का साईं मंदिर भक्तों के लिए बंद कर दिया गया था. तकरीबन नौ महीने तक इस मंदिर को बंद रखने के बाद 16 नवंबर 2020 को इसे दोबारा खोला गया था. इसके बाद कोरोना की दूसरी लहर की शुरुआत में इस साल के अप्रैल महीने में इसे दोबारा बंद कर दिया गया था.

दर्शन के लिए जारी होंगे ऑनलाइन पास

श्री साईं बाबा संस्थान ट्रस्ट के प्रबंधन की ओर से कहा गया है कि भक्तों को दर्शन करने के लिए ऑनलाइन पास जारी किए जाएंगे. रोजाना करीब 15,000 भक्तों को मंदिर में दर्शन करने की इजाजत दी जाएगी. प्रबंधन के अनुसार, 10 साल से कम उम्र के बच्चे, गर्भवती महिलाओं, जिनकी तबियत खराब है, 65 साल से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिक और बिना मास्क लगाए लोगों को दर्शन करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. हालांकि, मंदिर का प्रसाद काउंटर बंद रखा जाएगा.

क्या है नई गाइडलाइंस

  • शिरडी साई बाबा मंदिर में हर दिन ज्यादा से ज्यादा 15,000 भक्तों को दर्शन करने अनुमति दी जाएगी.

  • मंदिर प्रशासन की ओर से भक्तों के लिए 7 अक्टूबर से 5,000 पेड पास, 5,000 ऑनलाइन पास और 5,000 ऑफलाइन पास की सुविधा मुहैया कराई गई है.

  • किसी भी समय 1,150 से अधिक भक्तों को मंदिर परिसर के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

  • आरती के दौरान अधिक से अधिक 90 लोगों को अंदर जाने की अनुमति होगी.

  • मंदिर प्रशासन ने मंदिर में प्रवेश करने के लिए गेट नं. 2 को निर्धारित किया है.

  • गेट नंबर 4 और 5 से बाहर निकलने की सुविधा दी गई है.

  • ध्यान मंदिर और परायण कक्ष बंद रहेंगे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें