1. home Hindi News
  2. national
  3. rajasthan politics political crisis latest update ashok gehlot jaisalmer sachin pilot congress bjp amit shah 11 mla missing

Rajasthan Politicial Crisis : क्या भाजपा ने कांग्रेस खेमे में लगा ली सेंध ? 11 विधायक और मंत्री नहीं पहुंचे जैसलमेर

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Rajasthan Political Crisis
Rajasthan Political Crisis
Twitter

Rajasthan Politicial Crisis : राजस्थान की राजनीति में दिन प्रतिदिन नया मोड आ रहा है. सूबे की राजनीति का नया ठिकाना अब जैसलमेर बन गया है हालांकि यहां भी कांग्रेस की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं हैं. टीवी रिपोर्ट के अनुसार होटल फेयरमाउंट से जैसलमेर के होटल सूर्यागढ़ शिफ्ट हुए विधायकों को लेकर तब सस्पेंस बढ चुका है. बताया जा रहा है कि यहां करीब 11 विधायक और मंत्री नहीं पहुंचे है.

मीडिया में चल रही खबरों की मानें, तो जैसलमेर आने वालों में 7 मंत्री और 5 विधायक शामिल नहीं थे. लेकिन यह भी खबर आ रही है कि ये शनिवार को जैसलमेर को पहुंच सकते हैं. होटल सूर्यागढ़ नहीं पहुंचने वाले विधायकों में प्रतापसिंह, रघु शर्मा, अशोक चांदना, लालचंद कटारिया, उदयलाल आंजना, जगदीश जांगिड़, अमित चाचाण, परसराम मोरदिया, बाबूलाल बैरवा, बलवान पूनियां का नाम है.

खबरों की मानें तो सभी विधायक को जैसलमेर लाने के लिए तीन चार्टर लगाए गए थे जिसमें एक में तकनीकी गड़बड़ी के कारण 2 विधायक नहीं जा सके. इसके अलावा मुख्य सचेतक और 6 मंत्री जयपुर में ही रुके. बीमारी के कारण 3 विधायक भी नहीं जा सके हैं.

भाजपा ने चुटकी ली : सीएम गहलोत ने जयपुर हवाई अड्डे पर दो अंगुलियों से विजय की मुद्रा प्रदर्शित की, वहीं विपक्षी भाजपा ने इस मुद्दे पर चुटकी ली. भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने ट्वीट किया, सब एक हैं, कोई खतरा नहीं है, लोकतंत्र है, सब ठीक है तो बाड़ेबंदी क्यों ? और बिकाऊ कौन है ? उनके नाम सार्वजनिक करो; बाड़े में भी अविश्वास! जयपुर से जैसलमेर के बाद आगे तो पाकिस्तान है. एक और ट्वीट में पूनिया ने लिखा है कि कांग्रेस को टूट से बचाने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत विधायकों को जैसलमेर ले गए, कहां तक भागेगी सरकार ?

कांग्रेस का दावा : कांग्रेस महासचिव अविनाश पांडेय और पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला भी विधायकों के साथ जैसलमेर पहुंचे. पार्टी ने दावा किया कि कांग्रेस, सहयोगी दलों तथा निर्दलीय विधायकों समेत करीब 100 लोगों ने उड़ान भरी. इससे पहले ये विधायक 13 जुलाई से दिल्ली-जयपुर राजमार्ग पर स्थित फेयरमोंट होटल में रुके हुए थे. गहलोत खेमा राज्य विधानसभा के 14 अगस्त से शुरू हो रहे सत्र में संभावित विश्वास मत के लिए अपने विधायकों को एकजुट रख रहा है.

200 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के 107 सदस्य : कांग्रेस ने भाजपा पर राज्य की सरकार को गिराने के लिए खरीद-फरोख्त की कोशिश करने का आरोप लगाया है. 200 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के 107 सदस्य हैं जिनमें असंतुष्ट 19 विधायक शामिल हैं. वहीं भाजपा के 72 सदस्य हैं.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें