1. home Hindi News
  2. national
  3. rain due to deep depression over bay of bengal in rajasthan gujarat know about weather in your state mtj

बंगाल की खाड़ी में डीप डिप्रेशन से राजस्थान, गुजरात समेत इन राज्यों में होगी वर्षा, जानिए आपके शहर का हाल

बंगाल की खाड़ी में बने डिप्रेशन के असर से महाराष्ट्र, गुजरात, पूर्वी राजस्थान और पश्चिमी मध्यप्रदेश में कुछ जगहों पर 7 से 9 मार्च के बीच हल्के से मध्यम दर्जे की वर्षा हो सकती है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
फिर दिखेगा बंगाल की खाड़ी में चक्रवात का असर.
फिर दिखेगा बंगाल की खाड़ी में चक्रवात का असर.
pti

Weather Forecast Today: सर्दियों से लोगों को राहत मिल गयी है, लेकिन बदलते मौसम के दौरान बिन मौसम (Weather News) बारिश (Rain) ने कई इलाकों को बेहाल कर दिया है. मौसम विभाग (Weather Department) ने जो पूर्वानुमान (Weather Forecast) जारी किये हैं, उसमें बताया गया है कि बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पश्चिम में एक डीप डिप्रेशन का क्षेत्र बना है, जो तमिलनाडु के नागपट्टिनम से 320 किलोमीटर और चेन्नई से करीब 270 किलोमीटर दूर स्थित है.

7 मार्च से इन राज्यों में होगी वर्षा

बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) में बने इस डिप्रेशन (Deep Depression) के असर से महाराष्ट्र, गुजरात, पूर्वी राजस्थान और पश्चिमी मध्यप्रदेश में कुछ जगहों पर 7 से 9 मार्च के बीच हल्के से मध्यम दर्जे की वर्षा हो सकती है. कुछ जगहों पर बारिश के साथ-साथ वज्रपात (Lightning) भी हो सकती है. कुछ जगहों पर गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान भारत मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) ने जाहिर किया है.

उत्तराखंड में हिमपात के साथ हो सकता है वज्रपात

इतना ही नहीं, मौसम विभाग (IMD) ने कहा है कि 9 और 10 मार्च को उत्तराखंड (Uttarakhand Weather Forecast) में भी हल्के से मध्यम दर्जे की वर्षा हो सकती है. उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं. बर्फाबारी (Snowfall in Uttarakhand) के साथ कुछ जगहों पर वज्रपात भी हो सकता है. मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक, 9 मार्च को पंजाब (Punjab Weather), हरियाणा (Haryana Weather) और राजस्थान (Rajasthan Weather) के कुछ इलाकों में बारश हो सकती है. इस दौरान वज्रपात की भी घटनाएं हो सकती हैं.

फरवरी में गुजरात-राजस्थान में हुई सबसे कम वर्षा

बता दें कि फरवरी में गुजरात और राजस्थान में सबसे कम बारिश हुई. मौसम अब प्री-मानसून सीजन में प्रवेश कर रहा है. मार्च के दूसरे पखवाड़े में मानसून पूर्व गतिविधियां आमतौर पर देखी जाती हैं. इसकी शुरुात राजस्थान के कुछ हिस्सों से होती है. मार्च के महीने में गुजरात लगभग शुष्क रहता है. लेकिन आने वाले दिनों में यहां बारिश होने का अनुमान है.

गुजरात में पड़ेंगी गरज के साथ बौछारें

वहीं, मौसम की जानकारी उपलब्ध कराने वाली निजी कंपनी स्काईमेट की बात करें, तो उसने कहा है कि आने वाले दिनों में राजस्थान और गुजरात के कुछ हिस्सों में छिटपुट बारिश हो सकती है. गरज के साथ बौछारें पड़ने की भी संभावना स्काईमेट ने जाहिर की है. 7 मार्च को दक्षिण-पूर्वी राजस्थान में हल्की बारिश हो सकती है. 8 से 9 मार्च के बीच उत्तर और पूर्वी राजस्थान के कई हिस्सों के साथ-साथ पूर्वी गुजरात के कुछ हिस्सों में बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ने का अनुमान है.

राजस्थान में ओलावृष्टि, चलेंगी तेज हवाएं

स्काईमेट ने कहा है कि राजस्थान के ऊपर एक चक्रवात बन रहा है. साथ ही एक ट्रफ लाइन राजस्थान से उत्तर आंतरिक कर्नाटक तक एवं पूर्वी गुजरात और पश्चिमी मध्य प्रदेश के आसपास के हिस्सों के अलावा मध्य महाराष्ट्र तक विकसित हो सकती है. इसके असर से बारिश होगी. वर्षा की तीव्रता राजस्थान की तुलना में गुजरात के पूर्वी हिस्सों में कम होगी, ऐसा स्काईमेट का अनुमान है. राजस्थान के कुछ हिस्सों में ओलावृष्टि होने का अनुमान है. इस दौरान तेज हवाएं भी चल सकती हैं. ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान हो सकता है.

Posted By: Mithilesh Jha

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें