1. home Hindi News
  2. national
  3. railways made 4000 covid care coaches with 64 thousand beds ksl

कोरोना की दूसरी लहर से निबटने के लिए रेलवे ने 64 हजार बेड वाले 4000 कोविड केयर कोच बनाये, 169 कोच कई राज्यों को सौंपे गये

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
रेलवे की ओर से बनाये गये कोविड केयर कोच
रेलवे की ओर से बनाये गये कोविड केयर कोच
सोशल मीडिया

नयी दिल्ली : देश में कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर से मचे त्राहिमाम के बीच रेलवे ने विभिन्न राज्यों को उपलब्ध कराने के लिए 64 हजार बेड वाला चार हजार कोविड केयर कोच बनाया है.

इस संबंध में रेल मंत्रालय ने कहा है कि राज्यों द्वारा उपयोग के लिए करीब 64,000 बेड के साथ 4,000 कोविड केयर कोच बनाये हैं. मंत्रालय ने कहा है कि वर्तमान में 169 कोच विभिन्न राज्यों को सौंप दिये गये हैं.

रेल मंत्रालय के मुताबिक, रेलवे ने राज्यों से मांग के अनुसार, इंदौर के पास नागपुर, भोपाल, तिही के लिए कोविड केयर कोच दिये गये हैं. कोविड केयर के 11 कोच की देखभाल के लिए नागपुर के मंडल रेल प्रबंधक और नागपुर नगर निगम के आयुक्त के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये गये हैं.

रेल मंत्रालय ने कहा है कि प्रत्येक कोच में 16 मरीजों को रखा जायेगा. सभी कोच राज्य स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा जरूरी चिकित्सा अवसंरचना से सुसज्जित होंगे. हालांकि, चिकित्सा कर्मियों के खानपान की व्यवस्था का ध्यान रखने की सुविधा प्रदान की जायेगी.

वर्तमान में महाराष्ट्र के नंदुरबार में 57 रोगी सुविधा का उपयोग कर रहे हैं. इनमें से एक रोगी को स्थानांतरित कर दिया गया था. 322 बेड अब भी उपलब्ध हैं. दिल्ली में रेलवे ने 1200 बेड की क्षमता वाले 75 कोविड केयर कोचों की राज्य सरकारों की मांग को पूरी तरह से पूरा किया है. 50 कोच शकूरबस्ती और 25 कोच आनंद विहार स्टेशनों पर तैनात हैं.

इसके अलावा मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मांगे जाने पर पांच कोचों के लिए पश्चिम रेलवे के रतलाम डिवीजन ने इंदौर के पास तिही स्टेशन पर 320 बेड की क्षमता वाले 20 कोच तैनात किये हैं.

रिपोर्टों के मुताबिक, रेलवे ने 17 प्रवेश और छह डिस्चार्ज पंजीकृत किये हैं. वर्तमान में 70 कोविड मरीज आइसोलेशन कोच का उपयोग कर रहे हैं. हालांकि, उत्तर प्रदेश में कोचों को अभी तक राज्य सरकार द्वारा अपेक्षित नहीं किया गया है. 10 कोच फैजाबाद, भदोही, वाराणसी, बरेली और नजीबाबाद में रखा गया है. इनकी कुल क्षमता 50 कोच यानी 800 बेड की है.

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि भारतीय रेलवे नागपुर के अजनी कंटेनर डिपो में कोविड केयर कोच तैनात करेगा. ये 11 कोच एक साथ 170 से अधिक रोगियों को समायोजित कर सकते हैं. कोविड-19 के खिलाफ हमारी सामूहिक लड़ाई में रेलवे त्वरित और प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित कर रहा है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें