1. home Hindi News
  2. national
  3. punjab congress politics latest news updates cm capt amarinder confident sidhu will rejoin cabinet smb

नवजोत सिंह सिद्धू पंजाब कैबिनेट में फिर वापस लौटेंगे!, कैप्टन और गुरु की मुलाकात को लेकर कयासबाजी का दौर जारी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
नवजोत सिंह सिद्धू
नवजोत सिंह सिद्धू
FILE PIC

Punjab Cabinet Navjot Singh Sidhu Rejoin News पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर से नवजोत सिंह सिद्धू की बुधवार को हुई मुलाकात के बाद भी सिद्धू की कैबिनेट वापसी पर संशय बना हुआ है. बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू ने महत्वपूर्ण पोर्टफोलियो से हटाए जाने के बाद 2019 में अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. लेकिन, लंबे समय बाद एक बार फिर कैप्टन और सिद्धू की मुलाकात के बाद कयासबाजी का दौर जारी है. वहीं, मोहाली के सिसवां स्थित फार्म हाउस में पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू से मुलाकात के एक दिन बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बड़ा बयान दिया है.

अपनी सरकार के चार साल पूरे होने पर आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि हर कोई चाहता है कि नवजोत सिंह सिद्धू हमारी टीम का हिस्सा बने. उन्होंने कहा कि वह सिद्धू को उनके बचपन से जानते हैं और बुधवार को भी उनके साथ मीटिंग बहुत ही सुखद रही है. इससे पूर्व बैठक के बाद कैप्टन अमरिंदर ने कहा था कि मुलाकात अच्छी रही. हमारे संबंध गर्मजोशी से भरे रहे हैं और मैं उनके जवाब का इंतजार कर रहा हूं. मुझे पूरा विश्वास है कि सिद्धू पार्टी और राज्य के पक्ष में फैसला लेंगे. जहां तक कांग्रेस का सवाल है कि तो पार्टी चाहती है कि वो जल्द से जल्द वापस आएं और एक्टिव रोल अदा करें.

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह बयानों से इस बात के संकेत मिल रहे कि सिद्धू को कैबिनेट में वापस आने का ऑफर दिया गया है. अब सिद्धू को इसे लेकर जवाब देना है. वहीं, सियासी गलियारों से चर्चा तेज है कि सिद्धू इसलिए इंतजार कर रहे हैं कि उन्हें और बेहतर ऑफर मिल सके. मीडिया रिपोर्ट में कांग्रेस के एक नेता के हवाले से बताया जा रहा है कि अगर सिद्धू को सिर्फ कैबिनेट में पद चाहिए होता तो वो इस्तीफा ही नहीं देते.

इस बीच सिद्धू भी ट्वीट तो कर रहे हैं, लेकिन कोई साफ जानकारी नहीं दे रहे हैं. उन्होंने गुरुवार को एक ट्वीट किया और लिखा, तिनके से हल्की रुई , रुई से हल्का मांगने वाला आदमी. न अपने लिए मांगा था, न मांगा है और न मांगूंगा! वहीं, इससे पहले सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू ने कहा था कि वह और उनके पति इस कारण राजनीति में नहीं आए हैं. उन्होंने साल 2016 में सिद्धू के भाजपा छोड़ने के फैसले की ओर इशारा करते हुए दावा किया, अगर ऐसा होता तो वह केंद्रीय मंत्री बन गए होते.

Upload By Samir

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें