1. home Home
  2. national
  3. punjab cm captain amarinder singh submits resignation to governor banwarilal purohit mtj

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह का इस्तीफा, कांग्रेस आलाकमान को दिया यह संदेश

कांग्रेस आलाकमान ने नवजोत सिंह सिद्धू के दबाव में आकर कैप्टन अमरिंदर सिंह से कहा था कि वह इस्तीफा दे दें.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित को इस्तीफा सौंपा
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित को इस्तीफा सौंपा
Twitter

चंडीगढ़: पंजाब प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू का विद्रोह रंग लाया. राजनीतिक किलेबंदी करके उन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को इस्तीफा देने के लिए मजबूर कर दिया. शनिवार को अपने सभी मंत्रियों के साथ राजभवन जाकर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दोपहर 4:30 बजे राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित को अपना इस्तीफा सौंप दिया (Punjab CM Captain Amarinder Singh Resigns) . उनके बेटे हरिंदर सिंह ने ट्वीट किया कि उनके पिता ने पंजाब के मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया है. कैप्टन ने अपने भविष्य की राजनीति के बारे में भी मीडिया से बात की.

कांग्रेस आलाकमान ने नवजोत सिंह सिद्धू के दबाव में आकर कैप्टन से कहा था कि वह इस्तीफा दे दें. इससे नाराज कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आलाकमान को फोन पर ही स्पष्ट कर दिया कि वह मुख्यमंत्री का पद ही नहीं, कांग्रेस पार्टी भी छोड़ देंगे. नवजोत सिंह सिद्धू के दबाव में आलाकमान ने पंजाब के विधायक दल की बैठक बुलायी.

साढ़े नौ साल तक मैं प्रदेश का मुख्यमंत्री रहा. अभी मैं कांग्रेस पार्टी में हूं. मेरे पास विकल्प हैं. उसके बारे में मैं वक्त आने पर आपको बताऊंगा. अभी मैं अपने साथियों से चर्चा करूंगा, उसके बाद कोई अंतिम फैसला लूंगा.
कैप्टन अमरिंदर सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री, पंजाब

विधायक दल की बैठक से पहले मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने ‌सरकारी आवास पर कैबिनेट मंत्रियों और विधायकों की बैठक बुलायी. इस बैठक में सिर्फ 13 विधायक और 7 कैबिनेट मंत्री पहुंचे. इसके बाद मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार ने मीडिया को बताया कि कैप्टन अमरिंदर सिंह 4:30 बजे राजभवन के बाहर मीडिया से बात करेंगे.

इसके साथ ही इस बात के संकेत मिल गये कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह अपने पद से इस्तीफा दे देंगे. हालांकि, एक संभावना यह भी जतायी जा रही थी कि वह विधानसभा को भंग करने की सिफारिश कर सकते हैं, क्योंकि उन्होंने कैबिनेट मंत्रियों की बैठक बुलायी थी. 7 कैबिनेट मंत्री उनके सरकारी आवास पर पहुंचे थे.

कांग्रेस में अपमानित महसूस कर रहा था - कैप्टन अमरिंदर सिंह

मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि वह पार्टी में अपमानित महसूस कर रहे थे. सुबह ही पार्टी आलाकमान को बता दिया था कि वह सीएम के पद से इस्तीफा दे देंगे. राजभवन के गेट पर प्रेस को संबोधित करते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि आलाकमान को जिस पर भरोसा है, वह उसे पंजाब का मुख्यमंत्री नियुक्त कर दे. उन्होंने कहा कि भविष्य में वह क्या करेंगे, इसके बारे में वह अपने साथियों के साथ बैठक करके चर्चा करेंगे.

कैप्टन के खिलाफ सिद्धू ने खोला था मोर्चा

ज्ञात हो कि नवजोत सिंह सिद्धू की अगुवाई में 40 विधायकों के मोर्चा खोलने के बाद पंजाब कांग्रेस का संकट गहरा गया था. कांग्रेस आलाकमान ने हरीश रावत और अजय माकन जैसे सीनियर नेताओं को ऑब्जर्वर के तौर पर पंजाब भेज दिया था. लेकिन, विधायक दल की बैठक से पहले ही कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस्तीफा दे दिया. इसे नवजोत सिंह सिद्धू की बड़ी जीत मानी जा रही है. अब देखना है कि पंजाब में अगला सीएम कौन बनता है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें